सतारा: महाराष्ट्र में सतारा लोकसभा सीट पर उपचुनाव में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के उम्मीदवार श्रीनिवास पाटिल ने बृहस्पतिवार को भाजपा के उम्मीदवार पर भारी बढ़त हासिल कर ली. उन्होंने कहा कि राकांपा प्रमुख शरद पवार के साथ भाजपा प्रत्याशी उदयनराजे भोसले के ‘विश्वासघात’ की वजह से लोगों ने उन्हें हरा दिया.

पाटिल ने कहा कि भोसले ने भाजपा में शामिल होने के लिए राकांपा छोड़कर पवार के साथ विश्वासघात किया और सासंद के तौर पर इस्तीफा दिया जिससे सतारा के लोग नाराज हो गए. भोसले मराठा योद्धा महाराज छत्रपति शिवाजी के वशंज हैं.

Maharashtra Assembly Election 2019 Result: रुझानों में भाजपा-शिवसेना गठबंधन को बहुमत, एनसीपी का प्रदर्शन बेहतर

पाटिल ने कहा, ‘पवार साहेब ने सिंहासन का सम्मान करते हुए सतारा लोकसभा सीट से उन्हें उतारा था लेकिन भोसले ने चुनाव के कुछ दिन बाद पार्टी छोड़ दी. उन्होंने पवार साहेब से विश्वासघात किया. इसलिए लोगों ने उन्हें पराजित कर दिया.’

महाराष्ट्र: चुनावी नतीजों के बाद फडणवीस और ठाकरे की अलग-अलग प्रेस कॉन्फ्रेंस, जनता को कहा धन्यवाद

पाटिल ने कहा कि 18 अक्टूबर को सतारा में बारिश के बीच 79 साल के पवार के भाषण ने भी लोकसभा सीट पर राकांपा के लिए हमदर्दी पैदा की. उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम ने उन्हें ‘सबसे बड़ी खुशी’ दी है. रूझानों के मुताबिक, पाटिल को अब तक पांच लाख 63 हजार से ज्यादा वोट मिले हैं जबकि भोसले ने 4 लाख 79 हजार से ज्यादा मत हासिल किए हैं.

(इनपुट-भाषा)