नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र के AIMIM नेता वारिस पठान के विवादित बयान को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है. पुणे के एक बीजेपी कार्यकर्ता परिमल देशपांडे ने वारिस पठान के उस बयान के खिलाफ गुरुवार को यह शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें उन्‍होंने कहा था, ”वे हमें कह रहे हैं कि हमने अपनी महिलाओं को आगे कर दिया है. केवल अकेले पड़ गए हैं और तुम तो पहले से ही पशीना बहा रहे हो. तुम समझ सकते हो कि क्‍या होगा अगर हम इकट्ठे होकर आ गए. 15 करोड़ हैं मगर 100 के ऊपर भारी हैं. ये याद रखना.” इस बयान के वीडियो के आधार पर बीजेपी कार्यकर्ता देशपांडे ने वारिस पठान के खिलाफ डेक्‍कन पुलिस स्‍टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. Also Read - COVID19: मुंबई की यह मुस्लिम फैमिली हर रोज 800 से ज्‍यादा भूखे लोगों को फ्री खाना खिला रही

हालांकि, वारिस पठान को जैसे ही पता चला कि उनके विवादित बयान का वीडियो वायरल हो गया है और मीडिया में उनका यह बयान सामने आ गया है तो इस एआईएमआईएम नेता ने इसे तोड़े मरोड़े जाने का आरोप लगा दिया गया. जब वारिस पठान से इस बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि वारिस पठान आखिरी व्‍यक्ति होगा जो किसी भी धर्म या देश के खिलाफ बोलेगा. मेरे बयान को गलत तरीके तोड़ मरोड़ कर पेश किया जा रहा है. मैं माफी नहीं मांग रहा हूं. यह भाजपा है जो भारतीयों को अलग करने की कोशिश कर रही है.

VIDEO में वारिस पठान बोले- 15 करोड़ हैं मगर 100 के ऊपर भारी हैं
सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर दिल्‍ली के शाहीनबाग में चल रहे महिलाओं के विरोध प्रदर्शन के बीच एआईएमआईएम नेता वारिस पठान का 15 फरवरी का ये विवादित वीडियो सामने आया है. वीडियो में महाराष्‍ट्र के एआईएमआईएम नेता वारिस पठान विवादित बयान देते हुए दिख रहे हैं.

इस वीडियो में एआईएमआईएम नेता वारिस पठान कहते नजर आ रहे हैं,” वे हमें कह रहे हैं कि हमने अपनी महिलाओं को आगे कर दिया है. केवल अकेले पड़ गए हैं और तुम तो पहले से ही पशीना बहा रहे हो. तुम समझ सकते हो कि क्‍या होगा अगर हम इकट्ठे होकर आ गए. 15 करोड़ हैं मगर 100 के ऊपर भारी हैं. ये याद रखना.

ये वीडियो बीते 15 फरवरी का है. बता दें एआईएमआईएम प्रमुख असुद्दीन ओवैसी भी सीएए के खिलाफ बहुत मुखर हैं और वह भी लगातार सररकार के कदम पर आक्रामक बने हुए हैं. बता दें कि शाहीन बाग में बीते दो महीने से महिलाएं सीएए और एनआरसीप के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं. शाहीन बाग सीएए विरोधी प्रदर्शनों का केंद्र बना हुआ है.