ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन यानि एआईएमआईएम के महाराष्ट्र विधानसभा में 2 विधायक है. 2011 में नांदेड महानगर पालिका चुनाव में सभी को चुकाते हुए एमआयएम के 11 पार्षद जीते और अचानक से इस पार्टी की महाराष्ट्र में चर्चा शुरू हुई। आगे हुए नगरपालिका चुनावों में मराठवाडा और उसके करीब के इलाकों में ओवैसी की पार्टी के पार्षद चुनकर आये। 2014 महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में कई ऐसी सीट थी जहां पार्टी के उम्मीदवार बेहद कम अंतर से हारे। औरंगाबाद महानगरपालिका चुनाव में भी एमआईएम ने शानदार प्रदर्शन किया।

मुंबई महानगरपालिका चुनाव में भी एमआईएम ने अपने 52 उम्मीदवार मैदान में उतारे है। पार्टी को उम्मीद हैं की मुंबई के लोग उन्हें समर्थन देंगे और ज्यादा से ज्यादा नगरसेवक चुनकर महानगर पालिका में भेजेंगे। मुंबई महानगर पालिका चुनाव में एमआईएम की रणनीति को लेकर हमने के विधायक वारिस पठान से बातचीत की।

सवाल: बीएमसी चुनाव में लोग आपको क्यों वोट दे?
वारिस पठान: हमलोगों ने 40 पॉइंट एक्शन प्लान बनाया है, हम उसे मैनिफेस्टो नहीं बोलते। इस एक्शन प्लान के तहत हमने लोगों से जो भी कहा है वह कर दिखाने में मानते है। एक्शन प्लान में शहर का विकास, पानी, सस्ता खाना, उर्दू भवन की स्थापना, रोज़गार के अवसर प्रधान करना और सस्ते घर जैसी बातें है। हमारी पार्टी प्रैक्टिकल एप्रोच रखती है और हम सभी समाज चाहे मुस्लिम, दलित सबके लिए काम करेंगे। हमारा एजेंडा साफ़ है, हम ऐसा काम करना चाहते है जो अभी तक किसी ने नहीं किया है।

सवाल: वारिस जी आपकी पार्टी पर हमेशा ही बीजेपी की मदद करने का इलज़ाम लगता रहा है
वारिस पठान: यह सब गलत इलज़ाम है। जहां-जहां कांग्रेस हारी वहाँ हम लड़े भी नहीं दिल्ली, झारखंड, कश्मीर और मुंबई में भी कई जगह हम नहीं लड़े फिर भी ये लोग हारे। वे उन लोगों की नाकामयाबी, काम नहीं करने और घमंड की वजह से कांग्रेस हारी है। यह उनकी बौखलाहट है। आपने देखा होगा की महाराष्ट्र विधानसभा में जब ‘भारत माता की जय’ का स्लोगन बोलने को बोला तो सबसे पहले कांग्रेस, एनसीपी और समाजवादी पार्टी ने की ऐतेराज़ जताया और मुझे निलम्भित करने की मांग की।

सवाल: आपको क्या लगता आपको बीएमसी चुनाव में कितनी सीट मिलेगी?
वारिस पठान: हमलोग 20 से ज़्यादा सीट मुंबई महानगर पालिका चुनाव में जीतेंगे।

waris pathan

Photo: Facebook

सवाल: आपने कितने गैर मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है और आपको क्या लगता है गैर मुस्लिम आपको वोट देंगे?
वारिस पठान: हमने 9 गैर मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है और विकास के लिए सब वोट देते है। जो चाहता है की शहर विकास हो, उसे सुविधा मिली, नागरिक सुविधाएं सुधरे वो हमको वोट देगा। लोग अपने बेहतर भविष्य के लिए हमें वोट दे।

सवाल: बीएमसी चुनाव के बाद अगर शिवसेना या बीजेपी को समर्थन की ज़रूरत पड़ी तो क्या आप समर्थन देंगे?
वारिस पठान: यह फैसला पार्टी करेगी। पार्टी जो फैसला करती है हम उसे मानते है और पार्टी जो फैसला करेगी हम उसके साथ रहेंगे।