मुंबई: महानगर में 28 साल के एक अविवाहित बीएमसी लेबर उप-ठेकेदार ने अपने घर में आत्महत्या कर ली है. एंटोफिल पुलिस ने एडीआर दर्ज की और शव को पोस्टमार्टम के लिए सायन अस्पताल भेजा गया. फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस की जांच जारी है.Also Read - Mumbai: पत्नी ने पढ़ाई नहीं करने पर बच्चों को पीटा तो पति ने मार दिया चाकू

पीएमसीएच के परेल गांधी अस्पताल में कोरोना रोगियों के लिए अनुबंध के आधार पर पीड़ित श्रम की आपूर्ति का काम करता था. आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले मुख्य ठेकेदार ने मजदूरों के वेतन से 5 लाख रुपये की ठगी किया था, जिसको लेकर तब मोहन मणि नायडू पर नुकसान का आरोप लगाया गया था. Also Read - कोरोना के 'Omicron' वेरिएंट से लड़ने के लिए तैयार दिल्ली सरकार! CM केजरीवाल ने तैयारियों की दी जानकारी

बताया जा रहा है इसी आरोप के चलते उसने आत्महत्या कर ली. उपठेकेदार के पिता की मृत्यु 10 साल पहले हो गई थी. जबकि मोहन के परिवार में उसके गुजर जाने के बाद मोहन की माँ, एक बहन और एक भाई है. Also Read - Omicron Scare: अफ्रीकी देशों से बीते 15 दिन में मुंबई आए हजार यात्री, BMC ने बताया- अब तक सिर्फ 100 की हुई जांच