मुंबई: मुंबई के नागपाड़ा इलाके में स्थित एक होटल में मंगलवार शाम आग लग गई. इस होटल को कोरोना वायरस के लिए पृथक केंद्र में तब्दील किया गया है. घटना में किसी के झुलसने की खबर नहीं हैं. एक दमकल अधिकारी ने बताया कि बेलासिस रोड पर स्थित चार मंजिला होटल रिपॉन पेलेस में शाम छह बजकर करीब 20 मिनट पर आग लगना शुरू हुई. Also Read - यूपी सरकार ने शॉपिंग मॉल खोलने को लेकर जारी किए दिशानिर्देश, मास्क के बिना अनुमति नहीं

उन्होंने बताया कि इमारत में पृथक-वास में रखे गए अधिकतर मरीजों को निकाल लिया गया. वहीं अन्य मरीजों की तलाश की जा रही है. Also Read - महाराष्ट्र में कोरोना से एक दिन में रिकॉर्ड 139 लोगों की मौत, 80 हजार के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या

वहीं मुंबई में कोरोना की स्थिति की बात करें तो बृहन्नमुंबई नगर पालिका के अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि लगभग एक महीने के लॉकडाउन के बावजूद मुंबई में नौ से 20 अप्रैल के बीच निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 113 फीसदी बढ़कर 381 से 813 हो गई. सोमवार तक शहर में कोविड-19 के 3,090 मामले थे जबकि नौ अप्रैल को यह संख्या 775 थी. Also Read - Goggle Mask: कोरोना को देने मात, लखनऊ दंपति ने बनाया 'गॉगल मास्क'

ऐसे क्षेत्र जहां कोविड-19 के एक या अधिक मरीज या संदिग्ध मामले मिलते हैं उन्हें निषिद्ध क्षेत्र कहा जाता है और वहां लॉकडाउन को बहुत सख्ती के साथ लागू किया जाता है तथा आवाजाही, प्रवेश -निकास सब पर रोक होती है.