मुंबई: मुंबई के नागपाड़ा इलाके में स्थित एक होटल में मंगलवार शाम आग लग गई. इस होटल को कोरोना वायरस के लिए पृथक केंद्र में तब्दील किया गया है. घटना में किसी के झुलसने की खबर नहीं हैं. एक दमकल अधिकारी ने बताया कि बेलासिस रोड पर स्थित चार मंजिला होटल रिपॉन पेलेस में शाम छह बजकर करीब 20 मिनट पर आग लगना शुरू हुई. Also Read - कोरोना की वैक्सीन से बांझपन और नपुंषकता का है खतरा? जानें क्या है वायरल दावे की सच्चाई

उन्होंने बताया कि इमारत में पृथक-वास में रखे गए अधिकतर मरीजों को निकाल लिया गया. वहीं अन्य मरीजों की तलाश की जा रही है. Also Read - Coronavirus Cases In India: 1 दिन में 42 हजार से अधिक लोग हुए कोरोना संक्रमण का शिकार, 1,167 लोगों की हुई मौत

वहीं मुंबई में कोरोना की स्थिति की बात करें तो बृहन्नमुंबई नगर पालिका के अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि लगभग एक महीने के लॉकडाउन के बावजूद मुंबई में नौ से 20 अप्रैल के बीच निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 113 फीसदी बढ़कर 381 से 813 हो गई. सोमवार तक शहर में कोविड-19 के 3,090 मामले थे जबकि नौ अप्रैल को यह संख्या 775 थी. Also Read - Mumbai Unlock Update: मुंबई में जारी रहेंगी लॉकडाउन की पाबंदियां, अनलॉक के ‘स्तर-एक’ में आने के बाद भी नहीं मिली ढील

ऐसे क्षेत्र जहां कोविड-19 के एक या अधिक मरीज या संदिग्ध मामले मिलते हैं उन्हें निषिद्ध क्षेत्र कहा जाता है और वहां लॉकडाउन को बहुत सख्ती के साथ लागू किया जाता है तथा आवाजाही, प्रवेश -निकास सब पर रोक होती है.