मुंबई: उपनगर कुर्ला में रेलवे पटरियों के नजदीक 32 वर्षीय एक महिला से चार लोगों ने कथित तौर पर बलात्कार किया. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. अधिकारी ने बताया कि साबले नगर इलाके में सोमवार की देर रात यह घटना हुई. वर्ली की रहने वाली पीड़िता मध्यप्रदेश के कटनी जाने के लिए लोकमान्य तिलक टर्मिनस जाना चाहती थी. अधिकारी ने कहा कि घटना से पहले वह बायकुला से कुर्ला एक ट्रेन से पहुंची. कुर्ला पुल पहुंचने पर उसने एक राहगीर से एलटीटी जाने का रास्ता पूछा और हार्बर लाइन तक उसके पीछे गई. Also Read - Video: Train को आता देख शख्‍स ने सुसाइड करने के लिए रेलवे ट्रैक पर चादर बिछाकर लेट गया, तभी RPF जवान ने बचा ली जान

उन्होंने कहा कि रास्ते में वह झाड़ियों में शौच के लिए गई जबकि उसके आगे चल रहा व्यक्ति लापता हो गया. उन्होंने कहा कि उस वक्त वहां नशा कर रहे दो लोगों ने उस पर हमला किया और उससे बलात्कार किया. अधिकारी ने बताया कि वहां से मोटरसाइकिल से गुजर रहे दो अन्य लोगों ने महिला से बलात्कार और अप्राकृतिक दुष्कर्म किया. उन्होंने कहा कि आरोपियों ने उससे तीन हजार रुपये और उसका 25 हजार रुपये का मंगलसूत्र भी छीन लिए. Also Read - Mukesh Ambani Family को नहीं मिली कोई धमकी भरी चिट्ठी, मुंबई पुलिस ने विस्‍फोटक से लदी स्‍कॉर्पियो के मालिक की पहचान की

यौन प्रताड़ना का शिकार होने के बाद महिला कुछ दूर चली जिसके बाद उसे एक महिला मिली जिसने नेहरू नगर थाने को सूचना देने में उसकी मदद की. उन्होंने कहा कि महिला एक आरोपी की पहचान अपने ही इलाके में रहने वाले युवक के तौर पर की जो उसका पीछा कर रहा था. नेहरू नगर थाने के वरिष्ठ निरीक्षक विलास शिंदे ने कहा कि सूचना के आधार पर पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की और अपराध के कुछ घंटे के अंदर ही सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. Also Read - मुकेश अंबानी के घर Antilla के पास खड़ी मिली संदिग्ध कार, बम डिस्पोजल स्क्वॉड मौके पर पहुंचा

आरोपियों की पहचान श्रीकांत भोगले, सोनू तिवारी, निलेश बारसकर और सिद्धार्थ वाघ के तौर पर हुई है. तीन आरोपियों को कुर्ला से पकड़ा गया जबकि वाघ को विक्रोली से पकड़ा गया. आरोपियों पर भादंसं की धारा 376 (बलात्कार), 377 (अप्राकृतिक दुष्कर्म), 354 (हमला) और अन्य संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि पीड़िता विधवा है और उसके दो बच्चे हैं. उसे जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया.

(इनपुट भाषा)