नई दिल्ली: सीबीआई ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद में मंगलवार को एक देसी पिस्तौल बरामद किया जो वैसी ही है, जैसी पिस्तौल का इस्तेमाल 2013 में तर्कवादी नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के लिए किया गया था. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि सीबीआई की ओर से हाल में गिरफ्तार किए गए सचिन प्रकाशराव अंदुरे द्वारा दिए गए सुराग के आधार पर एक खुकरी, तीन गोलियां और 7.65 बोर की एक पिस्तौल बरामद की गई. औरंगाबाद का रहने वाला अंदुरे 18 अगस्त को गिरफ्तार हुआ था. Also Read - सुशांत के फैमिली वकील विकास सिंह को CBI ने दिया जवाब, Death Mystry....

हथियार जब्ती मामला: पूर्व शिवसेना कॉरपोरेट श्रीकांत पनगारकर एटीएस के रिमांड में

अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई बरामद की गई पिस्तौल को बैलिस्टिक जांच के लिए भेजेगी, ताकि पता लगाया जा सके कि कहीं इसी पिस्तौल का इस्तेमाल दाभोलकर की हत्या में तो नहीं किया गया था. उन्होंने कहा कि अंदुरे के एक रिश्तेदार के एक दोस्त से यह पिस्तौल बरामद की गई.

अधिकारियों ने कहा कि समझा जाता है कि अंदुरे 20 अगस्त 2013 को पुणे में दाभोलकर पर दिनदहाड़े गोलियां चलाने वाले शूटरों में से एक है. अंधविश्वास के खिलाफ अभियान चलाने वाले दाभोलकर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. महाराष्ट्र के आतंकवाद निरोधक दस्ते ने एक गुप्त सूचना के आधार पर अंदुरे को गिरफ्तार किया था.

दाभोलकर की पांचवी पुण्यतिथि पर विरोध रैली, असली गुनाहगारों को गिरफ्तार करने की मांग