औरंगाबाद: व्हाट्सएप ग्रुप में विरोधियों को चुनौती देने वाले संदेश पोस्ट करने के बाद महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक रीयल एस्टेट ब्रोकर की तलवार और चाकू से हमला कर हत्या कर दी गयी. पुलिस ने छह लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है. Also Read - WhatsApp ने भारत ने अपना ब्रांड अभियान ‘इट्स बिटवीन यू’ किया शुरू, जानें क्या है इसमें खास

Also Read - WhatsApp यूजर्स दें ध्यान, एक छोटी सी गलती से हो सकता है बड़ा नुकसान, अकाउंट से जुड़ा है मामला

पुलिस ने सोमवार को बताया कि मोईन महमूद पठान (35) पर रविवार की रात यहां हरसूल के फातिमानगर इलाके में करीब 20 लोगों ने तलवारों, चाकुओं और छड़ों से हमला कर दिया. पुलिस ने दो गुटों की आपसी रंजिश को इस हत्या का कारण बताया है. पठान की प्रतिद्वंद्वी गुट के सदस्यों से दुश्मनी थी. Also Read - LPG Gas Booking: अब BPCL के ग्राहक Whatsapp Number से भी कर सकते हैं रसोई गैस की बुकिंग, जानें क्या है पूरी प्रक्रिया

जासूसी के आरोप में डीआरडीओ का इंजीनियर गिरफ्तार, पाकिस्तान को सूचनाएं लीक करने का आरोप

पुलिस के अनुसार रविवार शाम को पठान ने अपने विरोधियों को चुनौती देते हुए एक संदेश पोस्ट किया था. कुछ ही घंटे बाद करीब 20 युवक हथियार लेकर फातिमानगर पहुंच गये और उन्होंने पठान पर हमला कर दिया.

मुंबई में एक हमलेे में बाल-बाल बचे शिवसेना विधायक, एक समर्थक जख्‍मी

पुलिस के मुताबिक पठान के भतीजे इरफान शेख रहीम ने बीच-बचाव की कोशिश की लेकिन हमले में वह भी घायल हो गया. उसके सिर में चोट आयी है. उधर, पठान को सरकारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने सोमवार को छह कथित हमलावरों को पकड़ लिया है और अन्य की तलाश की जा रही है.