मुंबई: काफी उठापटक के बीच आखिरकार महाराष्ट्र में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा हो गया. नई सरकार बनने के बाद से मंत्रियों के विभागों के बंटवारे को लेकर सहयोगियों के बीच खींचतान चल रही थी. हालांकि शनिवार को हुए मंत्रियों के विभागों के बंटवारे में एनसीपी के हाथ में दो बड़े मंत्रालय आए हैं. एनसीपी को गृह मंत्रालय और वित्त मंत्रालय मिला है. जी हां, दरअसल रकांपा के अनिल देशमुख को गृह विभाग और महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार को वित्त विभाग की जिम्मेदारी मिली है. वहीं शहरी विकास मंत्रालय शिवसेना के एकनाथ शिंदे को मिला है. कांग्रेस के बाला साहेब को राजस्व यानी रिवेन्यू मिनिस्ट्री मिली है. Also Read - लॉकडाउन के बीच शख्स ने पूछा गर्लफ्रेंड से मिलने का तरीका, मुंबई पुलिस के क्यूट जवाब ने जीता लोगों का दिल

सरकार बनने और मंत्रिमंडल विस्तार के बाद महा अघाड़ी के तीनों दलों के बीच लंबी बातचीत के बाद अब सरकार के विभाग बांटे गए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवसेना के नेता और उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को पर्यटन और पर्यावरण मंत्रालय दिया गया है. Also Read - Fire At Covid Hospital in Maharashtra : वसई में कोविड अस्‍पताल में आग लगी, 13 कोरोना मरीजों की मौत

खबरों के मुताबिक पूर्व सीएम अशोक चव्हाण को उद्धव ठाकरे सरकार में शहरी विकास मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है. खास बात यह की गृह मंत्रालय समेत तमाम बड़े मंत्रालय एनसीपी को दिए गए हैं. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री जयंत पाटिल ने इस मौके पर कहा कि मुख्यमंत्री ने पोर्टफोलियो वितरण से संबंधित अंतिम सूची राज्यपाल को भेज दी है. उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि वह जल्द ही इसे मंजूरी देंगे. Also Read - Maharashtra Coronavirus Updates 22 April: महाराष्ट्र में कोविड-19 के 67,013 नए मामले सामने आए, 568 लोगों की मौत