पालघर: पालघर जिला परिषद की अध्यक्ष ( palghar zilla parishad) भारती कांबडी (Bharti Kambdi) पर मंगलवार को सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनने के लिए जुर्माना लगाया गया. जिला कलेक्टर (District Collector) डॉ. माणिक गुरसाल ने अपने कार्यालय में एक बैठक बुलाई थी, जिसमें कांबडी भी मौजूद थीं. कलेक्टर ने देखा कि जिला परिषद अध्यक्ष ने अनिवार्य फेस मास्क नहीं लगा रखा है. Also Read - PSL स्थगित, सोशल मीडिया पर IPL की आलोचना पर जमकर ट्रोल हुए Dale Steyn

जिले के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें मौके पर ही 200 रुपए का जुर्माना लगाया गया और कलेक्टर कार्यालय ने उन्हें उसी समय एक मास्क दिया. गुरसाल ने कहा कि लोगों को सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना चाहिए, क्योंकि कोविड-19 महामारी खत्म नहीं हुई है. Also Read - COVID-19: देश में 24 घंटे में 16,838 नए मामले आए, 113 मरीजों की हुई मौत

पालघर जिला पंचायत अध्‍यक्ष राज्‍य की सत्‍ताधारी पार्टी शिवसेना से ताल्‍लुक रखती हैं और उन्‍हें राज्‍यमंत्री का दर्जा प्राप्‍त है. Also Read - 7th Pay Commission : सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द जारी होने वाली है कर्मचारियों की रोकी गई रकम

बता दें कि महाराष्‍ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चेतावनी दी कि यदि लोगों ने सामाजिक दूरी बनाये रखने और मास्क लगाने के नियम का पालन नहीं किया, तो एक और लॉकडाउन लग सकता है.

राज्य में मंगलवार को कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 20,71,306 हो गई है, जबकि मृतक संख्या बढ़कर 51,591 हो गई. पिछले बुधवार से, महाराष्ट्र में दैनिक आधार पर 3,000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. रविवार को, राज्य में 4,092 नये मामले सामने आए थे जो कि एक महीने से अधिक समय में एक दिन में सामने आये सबसे अधिक मामले हैं. सरकारी आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले कुछ दिनों में ऐसे जिलों की संख्या में वृद्धि हुई है जहां कोविड-19 रोगियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है.

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि एक फरवरी से यात्रा प्रतिबंधों में छूट दी गई है, जो संख्या में वृद्धि के कारणों में से एक हो सकती है. मंगलवार को 2,700 रोगियों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई, इससे अभी तक ठीक हुए मरीजों की संख्या बढ़कर 19,81,408 हो गई. राज्य में संक्रमितों के ठीक होने की दर 95.66 प्रतिशत है.