Complete Lockdown In Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण की भयावह स्थिति के बीच बांबे हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से कम से कम 15 दिनों तक पूर्ण लॉकडाउन लगाने को कहा है. एक याचिका पर सुनवाई के दौरान बांबे हाईकोर्ट ने कहा कि अगर लोग पिछले साल की तरह पूरी तरह से घर में रहें तो हम बेहतर रिजल्ट की उम्मीद कर सकते हैं. ऐसे में राज्य सरकार को कम से कम 15 दिनों के लिए पूर्ण लॉकडाउन लगा देना चाहिए.Also Read - देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे से पूछा, अब पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमत के लिए कौन जिम्मेदार?

हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र के अटॉर्नी जनरल आशुतोष कुंभाकोनी से कहा कि हालांकि हम इस बारे में कोई आदेश नहीं दे रहे हैं. आप अपनी सरकार को इस बारे में सलाह दीजिए कि सरकार को पिछले साल की तरह कंप्लीट लॉकडाउन पर विचार करना चाहिए. Also Read - केंद्र की तरफ से की गई कटौती के बाद पेट्रोल-डीजल पर VAT कम करने वाला महाराष्ट्र देश का पहला राज्य

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमण की स्थिति देश में सबसे ज्यादा है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस के 63,309 नए मामले आए जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामले 44,73,394 पर पहुंच गए जबकि 985 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या 67,214 पर पहुंच गई. Also Read - 'होठों को चूमना, प्यार से छूना अप्राकृतिक अपराध नहीं', बॉम्बे हाईकोर्ट ने यौन शोषण के आरोपी को दी जमानत....

कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने लॉकडाउन जैसे कड़े प्रतिबंध लगाए हैं. आम लोगों को बेवजह घर से बाहर निकलने की मनाही है. पूरे राज्य में कर्फ्यू है. मुंबई लोकल ट्रेन की सेवाएं केवल आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए है. इसके बावजूद राज्य में कोरोना की स्थिति में कोई खास सुधार नहीं दिख रहा है.