मुंबई: कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर शुक्रवार को आरोप लगाया कि वह चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस नेताओं की आवाजाही को रोकने का प्रयास कर रही है. राज्य में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने दावा किया कि हवाई यातायात नियंत्रक (एटीसी) उन हेलीकॉप्टरों को समय से मंजूरी नहीं दे रहा जो प्रचार के लिए पार्टी के नेताओं को ले जाएंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि एटीसी खास तौर पर कांग्रेस के लिए ‘हवाई यातायात रोधक’ बन गया है.

सावंत ने ट्वीट किया, भाजपा हमारे नेताओं की आवाजाही को बाधित करना चाहती है. मैं और यहां तक सिंधिया जी भी कल से सोलापुर हवाईअड्डे पर फंसे हुए हैं. कल प्रधानमंत्री के आने की वजह से मंजूरी नहीं दी गई, अब बिना किसी वजह के ऐसा किया जा रहा है.

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को शुक्रवार को कोल्हापुर और सांगली में चुनावी बैठकों को संबोधित करना है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को महाराष्ट्र के पुणे, परली (बीड जिले) और सतारा में तीन रैलियों को संबोधित किया था.

राकांपा सांसद अमोल कोल्हे ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया था कि जिस हेलीकॉप्टर से उन्हें आना था उसे पुणे में मोदी की रैली के मद्देनजर उड़ान भरने की इजाजत नहीं दी गई जिससे जिले में प्रचार संबंधी उनकी बैठकें रद्द करनी पड़ी.

राकांपा के स्टार प्रचारक ने एक वीडियो संदेश में कहा कि उन्हें पुणे के भोसारी, पिंपरी और चिंचवाड़ में चुनाव बैठकों को संबोधित करना था लेकिन प्रधानमंत्री की रैली के मद्देनजर प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए उड़ान की इजाजत नहीं दी गई.

(इनपुट-भाषा)