मुंबई: कांग्रेस के नेताओं ने मुंबई में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर शहर के सामने पेश विभिन्न मुद्दों पर उनसे राय मांगी, ताकि उन विचारों को अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के पार्टी के घोषणा पत्र में शामिल किया जा सके. Also Read - कोरोना के बीच CBSE कराएगा एग्जाम, प्रियंका गांधी ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री से कहा- ये चौंकाने वाला फैसला, परीक्षाएं रद्द हों

Also Read - क्या मुंबई में लंबे वक्त तक लगने वाला है लॉकडाउन? आशंका के चलते मुंबई से फिर घर लौट रहे प्रवासी कामगार

  Also Read - Assam Assembly Election 2021: चुनाव के नतीजों से पहले ही कांग्रेस और AIUDF ने अपने उम्मीदवारों को भेजा राजस्थान

घोषणा पत्र संबंधी उप समिति की प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा ने पार्टी के राष्ट्रीय संपर्क अभियान ‘जन आवाज’ के तहत यहां मंगलवार को कई वर्गों के लोगों के साथ बातचीत की. इसके बाद शैलजा ने कहा कि हमारे पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने हमें निर्देश दिया है कि हम लोगों से संपर्क कर ऐसा घोषणा पत्र तैयार करें जो उनके ज्यादातर मुद्दों का समाधान देता हो.

मिशन 2019 को लेकर कांग्रेस का महाप्‍लान, इंदिरा की जन्‍मस्‍थली इलाहाबाद को बनाएंगे यूपी का चुनावी केंद्र

राज्यसभा सांसद ने कहा कि कांग्रेस ने देश को कई भरोसेमंद संस्थान दिए हैं लेकिन दुर्भाग्य से उन्हें एक-एक करके खत्म किया जा रहा है. मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा कि कार्यकर्ताओं के साथ महानगर में शहरीकरण से जुड़े मुद्दों और चुनौतियों पर चर्चा हुई. (इनपुट एजेंसी)