Corona Virus In Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामले ने राज्य सरकार की चिन्ता बढ़ा दी है. इसके बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को घोषणा की है कि कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए अपने बयान में कहा है कि सोमवार से राज्य में सभी राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक आयोजनों में लोगों के इकट्ठा होने पर रोक रहेगी. महाराष्ट्र सरकार के मंत्री छगन भुजबल की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. Also Read - Corona In Maharashtra: कोरोना से डरी महाराष्ट्र पुलिस, अब करेगी Work From Home, देखें PHOTOS

रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरने ने टीवी के ज़रिए राज्य की जनता को संबोधित करते हुए ये भी कहा कि अगले कुछ दिनों तक राजनीतिक आंदोलनों की अनुमति नहीं दी जाएगी क्योंकि उनमें काफी भीड़ हो जाती है. उन्होंने कहा है कि, “महामारी राज्य में अपना सिर उठा रही है, लेकिन क्या ये एक और लहर है, ये हमें 8 से 15 दिनों में पता चलेगा. लॉकडाउन कोविड-19 का समाधान नहीं हो सकता, लेकिन वायरस की साइकल को रोकने का ये एकमात्र विकल्प है.”

मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा है कि कोविड से जुड़े नियमों का पालन करना होगा और नियमों का उल्लंघन करने वालों को सज़ा दी जाएगी. उनके मुताबिक़, कोरोना वायरस के ख़िलाफ़ लड़ाई में मास्क ही एकमात्र “शील्ड” है. ठाकरे ने कहा, “लॉकडाउन से बचने के लिए मास्क पहनिए, अनुशासन बनाइए और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करिए.”