Maharashtra CororonaVirus: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढता जा रहा है. राज्य में पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण की वजह से करीब एक हजार से अधिक लोगों की जान चली गई है. इसके साथ ही महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे आज महत्वपूर्ण बैठक करने वाले हैं, जिसमें कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम की चर्चा होगी साथ ही कोरोना के टीकाकरण को लेकर भी सीएम अधिकारियों से बात करेंगे. पहले सीएम ठाकरे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोरोना की स्थिति का आकलन करेंगे फिर वे जिलाधिकारियों और कमिश्नरों से भी बात करेंगे.Also Read - सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा को आखिरकार मुंबई कोर्ट ने दे दी ज़मानत, दी गई हैं ये सख्त हिदायतें...

Also Read - हनुमान चालीसा विवाद: 6 मई तक विधायक पति रवि राणा संग जेल भेजी गईं अमरावती सांसद नवनीत राणा, वकील ने लगाया ये आरोप...

कोरोना टीका लेने के लिए लगी भीड़ Also Read - Lockdown In Maharashtra? महाराष्ट्र में कोरोना विस्फोट, मिले 2172 नए मरीज, फिर से लगेगा लॉकडाउन ..

मुंंबई के बीकेसी जंबो वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर वैक्सीनेशन के लिए लोगों की लंबी लाइन लगी है. तो वहीं मुंबई के नेस्को वैक्सीनेशन सेंटर पर भी कोरोना वैक्सीन के लिए लोगों की लंबी लाइन लगी है. यहां कल वैक्सीन खत्म हो जाने से वैक्सीनेशन रोक दिया गया था।एक महिला ने कहा, ”कहा गया है कि 10: 30 बजे कोविशील्ड की वैक्सीन लगेगी। जिन्हें कोवैक्सीन लगनी है वे 8:30 बजे अंदर चले गए हैं.”

बता दें कि महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 63,309 नए मामले सामने आए थे जबकि संक्रमण से 985 और लोगों की मौत हो गयी.राज्य स्वास्थ्य विभाग की मानें तो नए मामलों के साथ सूबे में संक्रमितों की संख्या 44,73,394 और मृतक संख्या 67,214 हो चुकी है. वहीं पिछले 24 घंटे के दौरान कुल 61,181 मरीजों को छुट्टी दे दी गयी. अब तक 37,30,729 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं.

महाराष्ट्र में 6,73,481 कोरोना संक्रमित इलाजरत हैं. मुंबई की बात करें तो यहां 4966 नए मामले आए और 78 लोगों की मौत हो गयी. बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने जानकारी दी कि नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 6,40,507 हो गयी जबकि मृतकों की संख्या 12,990 हो गयी है. बीएमसी के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान 5300 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी. शहर में अब तक 5,60,401 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं.