महाराष्ट्रः कोरोना के बढते प्रभाव के बीच महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने चेतावनी दी है कि यदि लोगों ने सरकार द्वारा लागू की गई सलाह को नहीं माना और अनावश्यक यात्राओं में कमी नहीं लाई तो वे राज्य में सार्वजनिक परिवहन को बंद करने पर फैसला ले सकते हैं. फिलहाल सरकार द्वारा एसा कोई आदेश नहीं दिया गया है. Also Read - कोविड-19 महामारी को लेकर शोएब अख्तर ने दिया बड़ा बयान, बोले- कंगाल करके छोड़ेगा कोराना

इससे पहले ठाकरे ने कहा कि राज्य में आवश्यक सेवाओं पर प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा. अभी राज्य में ट्रांसपोर्ट सेवाओं को बंद करने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है. उन्होंने कहा कि ट्रेन और बस आवश्यक सेवाएं हैं, इसलिए हम उन्हें अभी नहीं रोक रहे हैं. साथ ही उन्होंने जोड़ा कि यदि लोग हमारी सलाह नहीं मानते हैं तो राज्य में परिवहन रोकने पर विचार किया जाएगा. Also Read - COVID-19: हॉकी इंडिया ने मदद को बढ़ाया हाथ, इतने लाख दान देने का किया ऐलान

महाराष्ट्र में मॉल, बाजार, जिम आदि पहले ही बंद कराए जा चुके हैं. राज्य में अधिकतर प्राइवेट कंपनियों ने अपने दफ्तर बंद कर दिए हैं या फिर वर्क फ्रॉम होम का उपाय अपनाया है. देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण से बचाव के लिए रोज नई-नई पाबंदिया लगाई जा रहीं है. लोगों को सावधानी रखने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. भारत में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले महाराष्ट्र से आए हैं. देश में अब तक 137 संक्रमित लोग मिल चुके हैं जिनका अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है. Also Read - यूपी में लड़की हुई 'कोरोना', लड़का हुआ 'लॉकडाउन', दोनों के लिए चल रहा जश्न, जानें मामला