मुंबई: मुंबई के वॉकहार्ट अस्पताल (Wockhardt Hospital) को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (बीएमसी) ने कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है. इस अस्पताल की 26 नर्सें व तीन डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. एक अधिकारी ने द टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि जब तक सभी मरीज दो बार टेस्ट में नेगेटिव नहीं आते हैं तब तक प्रशासन ने अस्पताल से प्रवेश और बाहर निकलने पर रोक लगा दी है. Also Read - महाराष्‍ट्र में कोरोना से आज 85 मौतें के साथ अब तक करीब 2000 मृत, कुल 60 हजार पॉजिटिव केस

अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के केस किसी चिकित्सा सुविधा में पाए गए हैं. उन्हें सावधानी बरतनी चाहिए थी.” उन्होंने कहा कि एक कार्यकारी अधिकारी की अगुवाई में एक टीम गठित की गई है. ये टीम जांच करेगी कि अस्पताल में इतने सारे लोगों में कोरोना कैसे फैल गया है. गौरतलब है कि देश में सोमवार को कोरोना वायरस के चलते मृतकों की संख्या 109 पर पहुंच गई है. Also Read - ICC Meeting: टी20 विश्‍व कप 2020 के भविष्‍य को लेकर फैसला 10 जून तक स्‍थगित

वहीं वॉकहार्ट अस्‍पताल की बात करें तो यह मुंबई सेंट्रल इलाके में स्थित है. यहां काम करने वाली 26 नर्स और तीन डॉक्‍टरों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद 270 नर्सों और कुछ अन्‍य रोगियों के नमूने जांच के लिए भेजे गये. जिन लोगों का टेस्‍ट नेगेटिव आएगा उन्‍हें अलग रखने की व्‍यवस्‍था की जाएगी. हालांकि अभी तक ये पता नहीं चला है कि इन लोगों में कोरोना किसके जरिए फैला है. Also Read - Coronavirus Effect: अब इस राज्य में पोस्टमैन घर-घर पहुंचाएंगे आम और लीची, जानें क्या है सरकार की प्लानिंग