Cyclone Gulab Alert: चक्रवाती तूफान गुलाब रविवार की रात ओडिशा और आंध्र प्रदेश के समुद्री तटों से टकराया और उसके बाद वह अब कमजोर पड़ गया है और अब कलिंगपट्टनम से 20 किलोमीटर उत्तर की दिशा को पार कर गया है. अगले 12 घंटों के दौरान इसके लगभग पश्चिम की ओर बढ़ने और एक डिप्रेशन में कमजोर होने की संभावना है. इस दौरान आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तेलंगाना और महाराष्ट्र के कई जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है.Also Read - Weather Forecast: कल से महाराष्ट्र-केरल-कर्नाटक में भारी बारिश की चेतावनी, 14 अक्टूबर तक कैसा रहेगा मौसम, जानिए

मौसम विभाग ने बताया है कि चक्रवात अब उत्तरी आंध्र और उससे सटे दक्षिण ओडिशा में पिछले 6 घंटों के दौरान पश्चिम की ओर बढ़ा है और 27 सितंबर की सुबह 5:30 बजे दक्षिण ओडिशा और उससे सटे उत्तरी आंध्र, जगदलपुर (छत्तीसगढ़) से लगभग 110 किमी दक्षिण-एसई और पश्चिम में 140 किमी- कलिंगपट्टनम (आंध्र प्रदेश) की तरफ चला गया है. Also Read - Cyclone Shaheen: 'गुलाब' के बाद अब चक्रवात 'शाहीन' का खतरा, NDRF-SDRF ने संभाला मोर्चा

आंध्र प्रदेश में हो रही है तेज बारिश, देखें वीडियो Also Read - Cyclone Gulab: चक्रवाती तूफान से निपटने में जुटी बंगाल सरकार, जारी किया गया रेड अलर्ट, जानें कहां जाने की है मनाही

आज इसकी वजह से ओडिशा के कोरापुट, रायगड़ा और गजपति जिलों में भारी बारिश की संभावना है और इन इलाकों में हवा की गति 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे होगी. आंध्र प्रदेश में आज सुबह से तेज बारिश हो रही है. कई जगहों पर बिजली के खंभे, पेड़ गिर गए हैं.

तेलंगाना में अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विज्ञान केंद्र हैदराबाद की प्रमुख डॉक्टर के नागरत्ना ने बताया है कि अगले 24 घंटों के दौरान, तेलंगाना के कुछ जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा और कभी-कभी अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है. तेलंगाना में 30-40 किमी/घंटा से लेकर 45 किमी/घंटा तक की तेज़ हवाएं चलने की संभावना है.

दो दिनों तक मुंबई और महाराष्ट्र में दिखेगा गुलाब का असर 
गुलाब चक्रवात का असर अब मुंबई में दिखेगा, आज यानी सोमवार और कल मंगलवार को मुंबई के कई इलाकों में मूसलाधार बारिश होगी. 27 और 28 सितंबर को मुंबई में हवा के साथ तेज बारिश होने की संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार, मुंबई और महाराष्ट्र में अगले 12 घंटों में तूफानी हवाएं चलने की संभावना है इसलिए विदर्भ, मराठवाडा और मध्य महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. चक्रवात गुलाब का असर कोंकण और मुंबई में दिखेगा. इन जगहों पर बारिश की तीव्रता 26 सितंबर से 29 सितंबर तक बनी रहेगी.

ओडिशा में गुलाब ने मचाई तबाही

रविवार की रात चक्रवाती तूफान गुलाब समुद्र तट से टकराया. तूफान के टकराने के बाद समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं और कई इलाकों में तेज बारिश भी हुई. इस दौरान तूफान की चपेट में आने से आंध्र प्रदेश के कई मछुआरों की मौत हो गई तो वहीं, ओडिशा में करीब 39000 लोगों को घरों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. राज्य प्रशासन ने लोगों से समुद्री तटों से दूर रहने की अपील की है.

एनडीआरएफ के टीम कमांडेंट सुशांत कुमार बेहरा ने बताया कि, दस बड़े पेड़ उखड़ गए थे और जिससे रास्ते हो गए थे, कुछ बिजली के खंभे भी गिरे थे, जेसीबी की मदद से उन्हें साफ किया गया है. एक घंटे के भीतर संचार बहाल कर दिया गया है हम आज भी काम कर रहे हैं.