पुणे: अंधविश्वास के खिलाफ जागरुकता फैलाने वाले सामाजिक कार्यकर्ता नरेन्द्र दाभोलकर और उनके परिवार द्वारा स्थापित एक संगठन के सदस्यों और उनके परिजन ने महाराष्ट्र के पुणे शहर में सोमवार को एक रैली निकाली और उनके असली हत्यारों व गुनाहगारों को गिरफ्तार करने की मांग की. Also Read - कॉल सेंटर घोटालेबाज: कनाडा में छात्रों को ठग रहा था भारतीय, कई और इसमें शामिल

Also Read - CSK vs RR: राजस्‍थान की जीत में इन पांच खिलाड़ियों ने निभाई अहम भूमिका

बता दें कि दाभोलकर हत्या मामले में कथित मुख्य शूटर सचिन आंदुरे को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था जिसे मुंबई सत्र  न्यायालय के सामने सोमवार को पेश किया गया. जहां से अदालत ने उसे 28 अगस्त तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है. Also Read - जानें क्या है 10 हजार करोड़ का आयुष्मान सहकार फंड, जिसे केंद्र सरकार ने किया लॉन्च

देश दु:खद स्थिति से गुजर रहा, जहां कोई व्यक्ति न तो खुलकर बोल सकता है न ही घूम सकता है: कोर्ट

गौरतलब है कि कुछ समय पूर्व ही कोर्ट ने इस मामले की धीमी प्रगति को लेकर सरकार व जांच एजेंसियों की फटकार लगाई थी यहां तक कि कोर्ट ने महाराष्ट्र सीआईडी और सीबीआई की ‘गोपनीय रिपोर्ट’ ये कहते हुए वापस कर दी कि रिपोर्ट में कुछ भी ‘गोपनीय’ नहीं है और अब तक की गई जांच बिलकुल भी संतोषजनक नहीं है.

रंगमंच से जुड़े कई दिग्गजों ने रैली में लिया हिस्सा

दाभोलकर की आज पांचवी पुण्यतिथि है. बता दें कि 20 अगस्त 2013 को नरेन्द्र दाभोलकर को गोली मार कर उनकी हत्या कर दी गई थी. दाभोलकर और मारे गए तर्कवादी गोविंद पानसरे के परिवार के सदस्यों, रंगमंच निर्देशक अतुल पेठे, अभिनेत्री सोनाली कुलकर्णी, महात्मा गांधी के पोते तुषार गांधी और कला, संस्कृति और फिल्म जगत से जुडे़ कई अन्य शख्सियतों ने रैली में हिस्सा लिया.

हत्या स्थल से रैली का आरम्भ

इस रैली का नेतृत्व दाभोलकर के महाराष्ट्र अंध श्रद्धा निर्मूलन समिति ने किया था. रैली विट्ठल रामजी शिंदे पुल से शुरू हुई जहां 2013 में दाभोलकर की गोली मार कर हत्या की गई थी. यह रैली सने गुरूजी स्मारक पर जाकर समाप्त हुई. इस पुल को ओंकारेश्वर पुल के नाम से भी जाना जाता है. दाभोलकर के बेटे हामिद दाभोलकर, बेटी मुक्ता दाभोलकर और गोविंद पानसरे की पुत्रवधु मेघा पानसरे ने रैली में हिस्सा लिया.

प्रदर्शनकारियों ने अपराध के ‘असली गुनहार’ को गिरफ्तार करने और न्याय दिलाने के संदेश वाले तख्तियां ली हुईं थीं. दिन भर चलने वाले कार्यक्रम को अभिनेता अमोल पालेकर, दाभोलकर, पानसरे, मारे गये विद्वान एमएम कुलबर्गी और पत्रकार गौरी लंकेश के परिवार के सदस्य संबोधित कर सकते हैं. बाद में हिन्दी में अनुवादित दाभोलकर की पुस्तक ‘भ्रम और निराश’ का भी विमोचन किया जाएगा.

नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड: सीबीआई हिरासत में भेजा गया प्रमुख आरोपी शूटर

केन्द्रीय जांच एजेंसी ने दाभोलकर हत्या मामले में कथित मुख्य शूटर सचिन आंदुरे को दो दिन पहले गिरफ्तार किया था. सीबीआई के प्रवक्ता ने रविवार को बताया था कि औरंगाबाद के निवासी आंदुरे को शनिवार देर शाम में पुणे से गिरफ्तार किया गया. फिलहाल अदालत ने उसे 28 अगस्त तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है.