मुंबई: शिवसेना नेता संजय राउत ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र में अगली सरकार उनकी पार्टी और भाजपा की होगी और चुनाव पूर्व निर्धारित ‘50-50’ के फॉर्मूले पर काम होगा. शिवसेना नेता ने कहा कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस फॉर्मूला क्रियान्वित करने पर बातचीत करेंगे. बता दें के रुझानों के मुताबिक बीजेपी 106 सीटों पर और शिवसेना 61 सीटों पर जीत की ओर आगे बढ़ते हुए दिखाई दे रही है. कांग्रेस ने 40 और एनसीपी 52 सीटों पर आगे दिख रही है. जबकि राज्‍य में 27 अन्‍य को सीटें मिलते हुए दिख रही हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की मतगणना के शुरुआती रुझानों के अनुसार, एनसीपी और कांग्रेस 2014 के चुनाव से बेहतर प्रदर्शन करती नजर आ रही हैं. राउत ने सरकार गठन के लिए शिवसेना द्वारा विपक्षी दलों से हाथ मिलाए जाने की संभावना को खारिज किया. उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा, महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना सरकार बनाएगी.

सरकार बनाने के लिए शिवसेना के एनसीपी और कांग्रेस से मिलने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर राउत ने कहा, नहीं, हमने भाजपा के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ा था. हम उसके साथ ही चलेंगे. पहले से तय 50-50 के फॉर्मूले में कोई परिवर्तन नहीं होगा.

शिवसेना नेता ने कहा कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस फॉर्मूला क्रियान्वित करने पर बातचीत करेंगे.

राज्य में कांग्रेस और एनसीपी के 2014 के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर राउत ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष के भी मजबूत रहने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि राकांपा प्रमुख शरद पवार ने अपने अनुभव का इस्तेमाल किया और राज्य में विभिन्न जगहों पर भ्रमण किया, जिससे विपक्षी दल को कुछ सफलता मिली.

राज्यसभा सदस्य ने कहा, लेकिन हम अच्छी संख्या में सीट जीत रहे हैं. सतारा लोकसभा सीट पर उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार उदयनराजे भोसले के राकांपा उम्मीदवार श्रीनिवास पाटिल से पिछड़ने पर राउत ने कहा कि भोसले को हार का सामना करना था.
भोसले हाल में एनसीपी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे.