मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार की सांसद बेटे सुप्रिया सुले के साथ गुरुवार को अजीबोगरीब वाकया हुआ. ट्रेन में उनके कोच में घुसे एक टैक्‍सी सर्विस दलाल ने उन्‍हें परेशान किया और उत्‍पीड़न करते हुए बेशर्म हरकतें की हैं. एनसीपी सांसद ने दादर टर्मिनस रेलवे स्टेशन पर गुरुवार को एक टैक्सी दलाल पर उत्पीड़न का आरोप लगाया. सुले ने कहा कि उसने मेरा रास्ता रोका, मुझे परेशान किया और उत्पीड़न करते हुए बेशर्मी से साथ तस्वीर लेने की कोशिश की. इस शिकायत पर पुलिस ने उसे अरेस्‍ट कर लिया है.

सुले ने रेलवे पुलिस को दर्ज कराई शिकायत में कहा कि कुलजीत सिंह मल्होत्रा नामक शख्स उनके रेलवे कोच में घुस गया और रास्ता रोककर पूछा कि क्या उन्हें टैक्सी की जरूरत है? सुले ने ट्वीट किया कि स्पष्ट रूप से यह कहने पर कि टैक्सी की जरूरत नहीं है उसने ‘मेरा रास्ता रोका और उत्पीड़न करते हुए बेशर्मी से साथ तस्वीर लेने की कोशिश की.

एनसीपी सांसद ने बताया कि बाद में रेलवे सुरक्षा बल ने सूचित किया कि उस शख्स को पकड़कर उसपर जुर्माना लगाया गया है. बारामती से सांसद सुले ने ट्वीट कहा, अगर कानून के तहत दलाली की इजाजत है तो इसे रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डे पर इजाजत नहीं देनी चाहिए, बल्कि इसे टैक्सी स्टैंड तक सीमित रखना चाहिए.

ट्वीट में सुले ने लिखा, दादर स्टेशन पर एक अजीब सा अनुभव हुआ. कुलजीत सिंह मल्होत्रा ​​के नाम से एक व्यक्ति ट्रेन में चढ़ा और टैक्सी सेवा के लिए टाल रहा था. दो बार मना करने के बावजूद उसने मेरा रास्ता अवरुद्ध कर दिया, मुझे परेशान किया और बेशर्मी से फोटो लेने की कोशिश करने लगा.

कृपया इस मामले को देखें ताकि यात्रियों को दोबारा ऐसी घटनाओं का अनुभव न करना पड़े. यदि कानून के तहत दलाली की अनुमति है, तो इसे ट्रेन स्टेशनों या हवाई अड्डों के भीतर और केवल तय किए गए टैक्सी स्टैंड पर अनुमति नहीं दी जानी चाहिए. घटित हुए इस वाकये की शिकायत करने रेल अधिकारियों को दादर पुलिस स्‍टेशन पर और पुलिस से की है. आरपीएफ पुलिस अधिकारियों के एक संदेश के अनुसार इस दलाल को गिरफ्तार कर लिया गया है. RPF आपकी त्वरित कार्रवाई के लिए धन्यवाद. किसी भी रेल यात्री के लिए असुविधा नहीं होनी चाहिए.