मुंबई: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कथित धनशोधन मामले में जांच के तहत महाराष्ट्र में शिवसेना की सांसद भावना गवली (Shiv Sena MP Bhavana Gawali) से जुड़े कई परिसरों पर सोमवार को छापेमारी की. यह जानकारी अधिकारियों ने दी. कथित तौर पर 18 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी एवं अन्य अनियमितताओं के आरोप लगाए हैं, वहीं, एक अन्‍य न्‍यूज एजेंसी ने 70 करोड़ रुपए से जुड़ा मामला बताया है.Also Read - दिल्ली हाईकोर्ट में ED का दावा- 'अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा समन की तारीख पर ब्यूटी पार्लर में थीं'

वहीं, न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, महाराष्ट्र में शिवसेना नेता भावना गवली से जुड़े 72 करोड़ रुपए के कथित घोटाले के मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने वाशिम जिले में 9 स्थानों पर छापेमारी की है. न्‍यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि यवतमाल- वाशिम से लोकसभा की सदस्य से जुड़े कम से कम सात परिसरों पर धनशोधन रोकथाम अधिनियम के प्रावधानों के तहत छापेमारी की गई. Also Read - ED ने आजम खां से सीतापुर जेल में पूछताछ की, जानें क्या है मामला

Also Read - UP News: आजम खां, मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की अब कुंडली खंगालेगी ED, मनी लान्ड्रिंग का है मामला

माना ईडी का मामला महाराष्ट्र पुलिस की प्राथमिकी पर आधारित है, जिसमें कथित तौर पर 18 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी एवं अन्य अनियमितताओं के आरोप लगाए हैं. अधिकारियों ने कहा कि वाशिम, मुंबई एवं कुछ अन्य स्थानों पर छापेमारी की जा रही है.

राजनीतिक कार्यकर्ता को ईडी का नोटिस प्रेम पत्र है न कि डेथ वारेंट: संजय राउत
केंद्र पर कटाक्ष करते हुए, शिवसेना सांसद संजय राउत ने सोमवार को कहा कि राजनीतिक कार्यकर्ताओं को मिलने वाला, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का नोटिस “डेथ वारंट” नहीं है, बल्कि एक “प्रेम पत्र” है. इससे एक दिन पहले केंद्रीय एजेंसी ने शिवसेना नेता और महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब को उसके सामने पेश होने को कहा था. राउत ने पत्रकारों से कहा, “मजबूत और अभेद्य महा विकास आघाड़ी (एमवीए) की दीवार को तोड़ने के असफल प्रयासों के बाद ऐसे प्रेम पत्रों की संख्या बढ़ गई है.”

या तो भाजपा का व्यक्ति ईडी में डेस्क अफसर है या….
राउत ने कहा कि परब को भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने निशाना बनाया है. उन्होंने कहा, “वह नोटिस का जवाब देंगे और ईडी के साथ सहयोग करेंगे. अधिकारियों ने रविवार को बताया कि ईडी ने परब को, महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख और अन्य के खिलाफ दर्ज धन शोधन के मामले में मंगलवार को पूछताछ के लिए तलब किया है. राउत ने कहा, ”या तो भाजपा का व्यक्ति ईडी में डेस्क अफसर है या ईडी का अधिकारी भाजपा कार्यालय में काम कर रहा है.” भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना, महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के साथ सत्ता साझा करती है. उन्होंने भाजपा पर महाराष्ट्र में मंदिरों को फिर से खोलने के लिए प्रदर्शन आयोजित करने को लेकर भी निशाना साधा, जो कोविड-19 प्रतिबंधों के कारण बंद हैं.