मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने प्रस्तावित छत्रपति शिवाजी स्मारक स्थल का स्थान बदलने से इंकार किया है. फिलहाल यह स्मारक अरब सागर के मुंबई से लगे तटीय हिस्से में बनाए जाने का प्रस्ताव है.

24 अक्टूबर को अरब सागर में मुम्बई तट के पास महाराष्ट्र सरकार के अधिकारियों सहित 25 लोगों को लेकर छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रस्तावित स्मारक स्थल पर जा रही एक नाव डूब गई थी. हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई. जिस दिन यह हादसा हुआ, उसी दिन इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर काम शुरू होना था. हादसे के बाद शिवाजी का स्मारक समुद्र तट के बजाय शहर में किसी भूमि पर बनाए जाने की मांग शुरू हो गई. सोमवार रात में कुछ मीडिया कर्मियों के साथ बातचीत करते हुए फड़णवीस ने कहा कि स्थान (शिवाजी स्मारक) बदलने के लिए कोई कारण नहीं है. स्मारक उसी स्थान पर बनेगा. हमने (पहले ही) काम शुरू कर दिया है.

डच दंपति द्वारा गोद लिए जमील लौटे मुंबई, डोंगरी बाल गृह के लिए कुछ करने की चाहत

हादसे को सीएम ने बताया दुर्भाग्‍यपूर्ण
पिछले सप्ताह हुई दुर्घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये फड़णवीस ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि नौका चालक द्वारा स्मारक स्थल जाने के लिए निर्धारित मार्ग से विपरीत छोटा रास्ता लेने के कारण दुर्घटना हुई. उन्होंने कहा कि स्मारक के वास्ते स्थान सहित परियोजना से संबद्ध समस्त पहलुओं के लिए सभी आवश्यक अनुमति ले ली गई है. मुख्यमंत्री के रूप में चार कार्य का कार्यकाल पूरा कर रहे फड़णवीस ने उल्लेख किया कि शिवाजी ने कई साल पहले समुद्र में कई किलों का निर्माण किया था और वे भी मुश्किल स्थानों पर. (इनपुट एजेंसी)