मुंबई: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने विधानसभा चुनाव में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी शिवसेना को सरकार बनाने का रविवार को न्योता दिया. सरकार बनाने से भाजपा के इनकार करने के कुछ घंटे बाद राज्यपाल ने यह कदम उठाया. राजभवन के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘शिवसेना को सरकार बनाने पर सोमवार (11 नवंबर) शाम साढ़े सात बजे तक अपने रुख से राज्यपाल को अवगत कराना होगा.’’

उल्लेखनीय है कि राज्य में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में 288 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 105, शिवसेना को 56 सीटों पर जीत मिली. वहीं, विपक्षी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को क्रमश: 44 और 54 सीटों पर जीत मिली.

राज भवन द्वारा जारी बयान के अनुसार कोश्यारी ने शिवसेना के विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे से कहा है कि वह महाराष्ट्र में सरकार बनाने की अपनी पार्टी की ‘‘इच्छा और क्षमता का संकेत दें.’’ इससे पहले शनिवार को राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी (विधानसभा चुनाव में) के रूप में उभरी भाजपा को सरकार बनाने का न्योता दिया था. हालांकि, मुख्यमंत्री पद और सत्ता साझेदारी के मुद्दे पर शिवसेना से समर्थन नहीं मिलने के मद्देनजर भाजपा ने रविवार को सरकार बनाने से इनकार कर दिया.

बयान में कहा गया है, ‘‘इसलिए राज्यपाल ने दूसरी सबसे बड़ी पार्टी, शिवसेना के निर्वाचित सदस्यों के नेता एकनाथ शिंदे से कहा है कि वह सरकार बनाने के लिए अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराएं.’’ सरकार बनाने की दौड़ से भाजपा के बाहर होने के बाद अब सरकार बनाने की जिम्मेदारी शिवसेना के कंधों पर आ पड़ी है. ऐसा प्रतीत होता है कि शिवसेना सरकार बनाने के लिए कांग्रेस और राकांपा का समर्थन ले सकती है. शिवसेना के सांसद संजय राउत 170 विधायकों का समर्थन प्राप्त होने का दावा पहले ही कर चुके हैं.

(इनपुट भाषा)