नई दिल्‍ली: कोरोना वायरस महामारी के लॉकडॉउन के चलते देश के विभिन्‍न राज्‍यों से अपने-अपने घरों को लौटने के लिए प्रवासी श्रमिकों की भीड़ देश में जगह-जगह दिखाई दे रहे हैं. मंगलवार को महाराष्‍ट्र की राजधानी मुंबई में भी ऐसा ही वाकया सामने आया है. यहां के बांद्रा स्‍टेशन के बाहर बिहार लौटने के लिए हजारों बिहारी कामगार जुट गए. वीडियो में स्‍टेशन के सामने एक ओवर ब्रिज भी है, जिस पर कई श्रमिक दौड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. Also Read - Weather Report: बारिश ने उत्तर और पश्चिम भारत में गर्मी से दिलाई राहत, यूपी में 13 लोगों की मौत, सीएम ने मुआवजे का किया ऐलान

ऐसी भीड़ का रेलवे स्‍टेशन जुटना न केवल संक्रमण फैलाने की बड़ी वजह हो सकती है, बल्कि, भगदड़ जैसी भयावह घटनाएं हो सकती हैं. Also Read - Covid-19 Cases in Bihar: प्रवासियों के लौटने के बाद तेजी से फैला संक्रमण, 206 नए मामले, कुल 3, 565 संक्रमित, जानें कहां कितनी संख्या

मुंबई के बांद्रा रेलवे स्‍टेशन में श्रमिक स्‍पेशल ट्रेन से बिहार जाने के लिए ये प्रवासी श्रमिकों की भीड़ मंगलवार को जुट गई. हालांकि, पुलिस ने समय रहते स्‍थ‍िति को संभाला और केवल उन्‍हीं श्रमिकों को ट्रेन में चढ़ने के लिए अंदर जाने दिया, जिनका रजिस्‍ट्रेशन था. पुलिस ने लगभग 1000 लोगों को ही ट्रेन में बैठने दिया. इसके बाद बाकी हजारों की भीड़ को पुलिस ने तितर-बितर कर दिया.

पश्चिम रेलवे सीपीआरओ ने बताया कि आज बांद्रा टर्मिनस से पूर्णिया के लिए एक श्रमिक विशेष ट्रेन निर्धारित की गई थी, जिसके लिए यात्रियों को राज्य के अधिकारियों ने पंजीकृत किया था, लेकिन कई लोग जो पंजीकृत नहीं थे और जिन्हें राज्य अधिकारियों द्वारा नहीं बुलाया गया था, वे स्टेशन के पास पुल और सड़क पर एकत्र हुए