मुंबई: एचडीएफसी बैंक के एक फैसले पर बवाल खड़ा हो गया है. मुंबई के फोर्ट इलाके में एचडीएफसी बैंक ने अपने गेट के फर्श पर कीलें गला दी थी, ताकि रात में कोई बेघर वहां आकर ना बैठ सके और ना सो सके. सोशल मीडिया पर जब यह खबर फैली तो बवाल हो गया. ये कील इतनी खतरनाक थी कि किसी को भी जख्मी कर सकती थी. बैंक ने सुरक्षा का हवाला देते हुए ये कील लगाई थी, लेकिन सोशल मीडिया पर जब ये बात वायरल हुई तो बैंक को अपना फैसला वापस लेते हुए कीलें हटवानी पड़ी.

BANK 2

बैंक ने ये कीलें सुरक्षा का हवाला देते हुए लगाई थीं, लेकिन इसके बाद से ही बैंक पर अमानवीय होने के आरोप लग रहे हैं. लोगों ने बैंक से लोहे की ये कीलें हटाने की मांग की. सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर तो बाकायदा काफी लोगों ने बैंक से कीलें हटाने के लिए कहा ताकि बेघर लोग वहां सो सकें.

BANK 1

लोगों के भारी विरोध के बाद एचडीएफसी बैंक का बयान भी सामने आया. अपने बयान में बैंक ने कहा कि फोर्ट ब्रांच के बाहर लोहे की कील लगाने से लोगों को हो रही असुविधा के लिए हमें खेद है. हाल ही में हुए मरम्मत के काम के दौरान ये कील लगाई गईं. हम इसे जल्द ही हटाएंगे. इसके बाद बैंक ने इन कीलों को फर्श के आसपास से हटवा दिया है.