नई दिल्लीः देश में लॉकडाउन के बीच भी कोरोना के मामले दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं. देश में कोरोना का आंकड़ा 86 हजार छूने को है. अभी तक देश में कुल 85 हजार 940 मामले सामने आ चुके हैं. देश में इस महामारी का प्रकोप सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है. जहां, कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 27 हजार के पार पहुंच गई है और करीब एक हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. ऐसे में उद्धव सरकार (Uddhav Thackeray) इससे निपटने की हर संभव कोशिश कर रही, लेकिन बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने का आरोप है कि मुंबई के कुछ क्षेत्रों में अभी भी लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं और सरकार का इस पर कोई ध्यान नहीं है.Also Read - Maharashtra Lockdown Update: महाराष्ट्र में रेस्तरां और दुकानों को खोलने का समय बढ़ाया गया, 22 अक्टूबर से खुलेंगे मनोरंजन पार्क

किरीट सौमैया ने अपने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने दावा किया है कि यह वीडियो शिवाजी नगर के गोवंडी रोड क्रमांक 2 (Shivaji Nagar Govandi Road No. 2) का है. जहां लोग धड़ल्ले से लॉकडाउन की धज्जियां उड़ा रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए बिना कोरोना को बुलावा दे रहे हैं. किरीट सोमैया ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, ‘हम नहीं सुधरेंगे. शिवाजी नगर गोवंडी रोड क्रमांक दो में आज (मई 15) रात 8 बजे भीड़. पुलिस कहां है ठाकरे सरकार?’ Also Read - Mumbai Coronavirus Update: मुंबई में 20 महीनों में पहली बार कोविड से कोई मौत नहीं, पूरे महाराष्ट्र में 1715 नए मामले सामने आए

Also Read - Maharashtra: नांदेड़ से तीन बार सांसद रह चुके भास्‍करराव खतगांवकर ने BJP छोड़ी, कांग्रेस में वापस लौटे

बता दें किरीट सोमैया लगातार ठाकरे सरकार को निशाने पर ले रहे हैं. हाल ही में सोमैया ने ठाकरे सरकार पर निशाना साधते हुए प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों को भर्ती नहीं किए जाने का आरोप लगाया था. सोमैया ने महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे को खत लिखा था. जिसकी जानकारी उन्होंने ट्विटर के जरिए दी थी.

सोमैया ने कहा, ‘कल शाम को मैंने और डॉक्टरों ने 4 कोरोना मरीजों को 6 प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती कराने की कोशिश की, लेकिन किसी ने उन्हें भर्ती नहीं किया. इनमें से दो मरीज मुलुंद के थे और दो सिओन के. मरीजों को भर्ती कराने लेकर गए तो अस्पतालों का कहना था कि सभी बेड फुल हैं. इसलिए मरीजों को भर्ती नहीं किया जा सकता है.’