Kisan Andolan: महाराष्ट्र के 21 जिलों के हजारों किसान शनिवार को नासिक जिले में इकट्ठे हुए और 180 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए मुंबई के लिए रवाना हो गए. ये किसान सोमवार को राज्य की राजधानी मुंबई के आजाद मैदान में एक विशाल रैली आयोजित करने की योजना बना रहे हैं.Also Read - Maharashtra News: मालेगांव की मेयर सहित कांग्रेस के 30 में से 27 पार्षदों ने थामा NCP का दामन

रैली को पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री और राकांपा प्रमुख शरद पवार, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे संबोधित करेंगे. इस दौरान किसानों एक प्रतिनिधिमंडल महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को ज्ञापन भी सौंपेगा. Also Read - Republic Day 2022: अगर LIVE नहीं देख पाए तो यहां तस्वीरों में देखें अपने राज्य की झांकी

मुंबई के लिए रवाना हुए किसानों का जन सैलाब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. बड़ी संख्या में किसान रोड से झंडे लेकर निकल रहे हैं. ये किसान कई कई छोटी यूनियनों से आए हैं और अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले खुद को इकट्ठा कर रहे हैं. इनके कुछ ही घंटों में मुंबई पहुंचने की उम्मीद है. Also Read - Maharashtra: नासिक में ऑनलाइन क्लास के लिए मोबाइल नहीं होने पर 11वीं की छात्रा ने की खुदकुशी

रैली का आयोजन अखिल भारतीय किसान सभा द्वारा 25 जनवरी को मुंबई में किया गया है. संगठन ने जारी एक बयान में यह जानकारी दी. विज्ञप्ति में कहा गया है कि एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को एक ज्ञापन भी सौंपेगा.

तीन कृषि कानूनों को केंद्र द्वारा कृषि क्षेत्र में बड़े सुधारों के रूप में पेश किया गया है जो बिचौलियों को दूर करेंगे और किसानों को देश में कहीं भी अपनी उपज बेचने की अनुमति देंगे. मुख्य तौर पर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हजारों किसान तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर पिछले वर्ष 28 नवम्बर से दिल्ली के कई सीमा बिंदुओं पर डेरा डाले हुए हैं.

सरकार और किसान यूनियनों के बीच कई दौर की वार्ता से अब तक गतिरोध दूर नहीं हो पाया है. उच्चतम न्यायालय ने समाधान के लिए एक समिति का गठन किया है.