मुंबई: मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े मादक पदार्थ मामले में धर्मा प्रोडक्शन के कार्यकारी निर्माता क्षितिज रवि प्रसाद से पूछताछ के बाद शनिवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.Also Read - Salman Khan ने पड़ोसी पर किया मानहानि का केस, कोर्ट का अंतरिम आदेश देने से इनकार, यूट्यूब, FB, ट्विटर और गूगल भी हैं पक्षकार

अधिकारी ने बताया कि एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के नेतृत्व में ब्यूरो का एक दल शुक्रवार को प्रसाद को उपनगरीय वर्सोवा इलाक में उनके घर से ले गया था. उनसे एनसीबी के बल्लार्ड एस्टेट कार्यालय में पूछताछ की गई. अधिकारी ने कहा, ”शनिवार को गिरफ्तारी के बाद उन्हें कोविड-19 समेत मेडिकल परीक्षणों के लिए अस्पताल ले जाया गया.” Also Read - Covid 19: जिन लोगों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है उनमें से 96 फीसद ने वैक्सीन नहीं लगवाई

एनसीबी के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र के डिप्‍टी डीजी मुथा अशोक जैन ने कहा, आज करिश्मा प्रकाश, दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर का बयान रिकॉर्ड किया गया है. एक व्यक्ति क्षितिज प्रसाद जिनसे पूछताछ हो रही थी, उसे गिरफ़्तार कर लिया गया है. कल उसे न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा. Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र के मंत्री Nawab Malik को मानहानि मामले में मिली जमानत, जानें क्या है पूरा मामला

शुक्रवार को एनसीबी ने धर्मा प्रोडक्शन के अनुभव चोपड़ा से हिंदी फिल्मोद्योग में ड्रग मामले के संबंध में पूछताछ की थी.

शुक्रवार को एक बयान में निर्माता निर्देशक करण जौहर ने कहा था कि प्रसाद एक परियोजना के लिए अनुबंध के आधार पर एक कार्यकारी निर्माता के तौर पर धर्मा प्रोडक्शन से संबद्ध कंपनी धर्माटिक इंटरटेमेंट से जुड़े थे, लेकिन बात नहीं बन पाई.
जौहर ने कहा कि अनुभव चोपड़ा एक सहायक निर्देशक के तौर पर महज कुछ समय के लिए उनके बैनर से जुड़े रहे और केवल दो प्रोजेक्ट पर काम किया.