नई दिल्ली: महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने बीते दिनों लॉकडाउन के दौरान बढ़ रहे साइबर क्राइम के मामलों पर चिंता जताई थी, वहीं इस बार उन्होंने ट्वीट कर उस मैसेज के बारे में बताया जिसमें ये कहा जा रहा है कि मुंबई और पुणे में सेना की तैनाती की जाएगी और इंटरनेट सेवाओं को बंद किया जाएगा. अपने ट्वीट में गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सभी अफवाहों का खंडन करते हुए कहा जानबूझकर व्हाट्सऐप और अन्य सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर इस तरह के संदेशों को फैलाया जा रहा है. Also Read - BMC ने अमिताभ के 'जलसा' को कंटेनमेंट जोन घोषित क‍िया, पुलिस ने अस्‍पताल और दो बंगलों की सुरक्षा बढ़ाई

बता दें कि सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर शेयर किए जा रहे मैसेज में बताया गया है कि महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे में सेना की तैनाती की जाने वाली है. इनकी तैनाती के साथ ही 10 दिनों तक के लिए इंटरनेट और फोन की सुविधाओं को भी बंद कर दिया जाएगा. बता दें कि इस तरह की सभी मैसेज को लेकर गृहमंत्री ने कहा कि इन्हें शेयर करने से बचें. वहीं उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र साइबर क्राइम विभाग इस मामले में सख्ती बरतते हुए अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर चुकी है. Also Read - Coronavirus in Mumbai latest Update: मायानगरी मुंबई में 24 घंटे में 1,308 नए कोरोना मरीज, 39 लोगों ने गंवाई जान, देखें रिपोर्ट्स

बता दें कि बीते दिनों अनिल देशमुख ने कहा था कि लॉकडाउन में विभाग के पास लगातार साइबर क्राइम की शिकायते सामने आ रही हैं. साथ ही सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और टिकटॉक के जरिए बलात्कार, एसिड हमले और घरेलू हिंसा को बढ़ावा देने वाले वीडियो भी खूब वायरल हुए हैं. ऐसे में साइबर क्राइम विभाग ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने में लगी हुई है.