नागपुर: महाराष्ट्र के वर्धा जिले के एक कॉलेज में पढ़ाने वाली 25 वर्षीय युवती को एक युवक ने सोमवार सुबह जिंद जला दिया. पुलिस ने बताया कि आरोपी उसका पीछा करता था. पुलिस ने बताया कि वर्धा के दारोदा गांव निवासी पीड़िता 40 प्रतिशत झुलस गई है. उसे नागपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वो जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही है.

अधिकारी ने बताया कि आरोपी विकेश नगराले (27) दो साल पहले पीड़िता का दोस्त था. बाद में पीड़िता ने उससे संबंध खत्म कर लिए थे. हिंगनघाट पुलिस थाने के निरीक्षक सत्यवीर बंदीवार ने कहा कि सोमवार सुबह 7:15 बजे युवती राज्य परिवहन की बस से वर्धा के हिंगनघाट में उतरी थी. तभी नगराले दुपहिया वाहन से उसके पास आया. उसने युवती पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और मौके से भाग गया.

हिंगनघाट पुलिस थाने के निरीक्षक ने बताया, कुछ राहगीरों ने युवती पर पानी डाला और पास के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया. वह 40 प्रतिशत तक झुलस गई है.

बाद में अस्पताल प्रशासन ने बुलेटिन जारी किया, जिसके अनुसार युवती का सिर, चेहरा, दाईं बांह, बायां हाथ, पीठ और गर्दन समेत 40 प्रतिशत हिस्सा जल गया है. श्वसन तंत्र भी प्रभावित होने के साथ उसे आतंरिक घाव भी आए हैं.

वर्धा के पुलिस अधीक्षक बासवराज तेली ने बताया कि आरोपी नगराले को टकलाघाट गांव से गिरफ्तार कर लिया गया है. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 307(हत्या का प्रयास) और धारा 326 (किसी को गंभीर रूप से जख्मी करना) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

अधिकारी ने बताया, ”नगराले शादीशुदा है और उसका सात महीने का एक बेटा है. वह भी दारोदी गांव का रहने वाला है. वह बल्हारशाह में एक फर्म में काम करता है. वह युवती का पीछा करता था. उसने पिछले साल आत्महत्या करने का प्रयास भी किया था, लेकिन तब कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी.”