नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र विधानसभा में आज यानि शनिवार को दोपहर बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाडी सरकार विश्वास मत साबित करेगी. इसके दूसरे दिन रविवार को विधानसभा अध्‍यक्ष का चुनाव किया जाएगा. कांग्रेस ने दावा किया है विधानसभा अध्‍यक्ष के चुनाव में पार्टी की ओर से नाना पटोले उम्‍मीदवार होंगे. यह बात महाराष्‍ट्र कांग्रेस प्रदेश के अध्‍यक्ष बाला साहब थोरात ने का सत्र शुरू होने से ठीक पहले कही है. लेकिन अभी तक शिवसेना और एनसीपी की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

बता दें कि पिछले लोकसभा में नाना पटोले बीजेपी से लोकसभा सदस्‍य रहे हैं. उन्‍होंने 2017 में किसानों के मुद्दे पर बीजेपी सरकार से नाराजगी चलते सांसद के पद से  इस्‍तीफा दे दिया था और कांग्रेस ज्‍वाइन कर ली थी. पटोले मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में सांसद रहे हैं.

पटोले ने 2014 के संसदीय चुनावों में भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट से एनसीपी के दिग्‍गज नेता प्रफुल्‍ल पटेल को बड़े अंतर लगभग 1.50 लाख वोटों से हराया था.

इस साल हुए संसदीय चुनाव में भी नाना पटोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के खिलाफ नागपुर लोकसभा सीट से मैदान पर उतरे थे. लेकिन वह इस चुनावी जंग में हार गए हालांकि, गडकरी की पिछली जीत का अंतर जरूर कुछ कम कर पाए थे.

नाना पटोले भंडारा जिले की साकोली विधानसभा सीट से विजयी हुए हैं. पटोले ने महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी के परिणय रमेश फुके को 5,309 वोटों से हराया है.

महाराष्‍ट्र प्रदेश की 288 सदस्यीय विधानसभा में सत्ताधारी गठबंधन ने 162 विधायकों के समर्थन का दावा किया था. मुख्यमंत्री पद ढाई-ढाई साल रखने के मुद्दे पर शिवसेना ने अपने गठबंधन सहयोगी बीजेपी से रिश्ते तोड़ लिए थे इसके बाद उद्धव ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ हाथ मिलाकर सरकार बनाई.