मुंबई: महाराष्ट्र की मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को समाप्त हो रहा है और नयी सरकार के गठन को लेकर गतिरोध जारी रहने के बीच भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल बृहस्पतिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यिारी से मुलाकात करेगा. राज्य में 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है. लेकिन नयी सरकार में मुख्यमंत्री पद और विभागों के बंटवारे को लेकर भाजपा और उसके गठबंधन सहयोगी शिवसेना के बीच गतिरोध कायम है.

महाराष्‍ट्र पर सियासत गर्माई: गडकरी से मिले अहमद पटेल, संजय राउत NCP चीफ पवार से मिले

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंतीवार ने बुधवार को कहा कि प्रदेश इकाई प्रमुख चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस द्वारा मंजूर एक संदेश के साथ कोश्यिारी से मुलाकात करेगा. उन्होंने कहा कि राज्यपाल के साथ मुलाकात का ब्यौरा बाद में मीडिया से साझा किया जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि पार्टी ने नये प्रदेश प्रमुख का चयन करने की प्रक्रिया शुरू करने का फैसला किया है. भाजपा नेता ने कहा कि चंद्रकांत पाटिल अगले मंत्रिमंडल में बने रहेंगे.

शिवसेना के पास भाजपा के साथ सरकार बनाने के अलावा कोई विकल्प नहीं: अठावले

मुनगंतीवार ने कहा कि नये भाजपा प्रदेश प्रमुख का चयन करने की प्रक्रिया 31 दिसंबर तक पूरी की जाएगी. भाजपा ने एक व्यक्ति एक पद की नीति अपनाई है. पाटिल भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के करीबी माने जाते हैं. पाटिल ने इस साल जुलाई में प्रदेश भाजपा का प्रभार संभाला था. वह निवर्तमान सरकार में राजस्व मंत्री के पद पर हैं. गौरतलब है कि राज्य में हालिया चुनाव में भाजपा ने 288 सदस्यीय विधानसभा में सबसे अधिक 105 सीटें जीती हैं. वहीं, उसकी सहयोगी पार्टी शिवसेना को 56 सीटों पर जीत मिली.

बीजेपी से न कोई नया प्रस्‍ताव मिला है और ना उन्‍हें भेजा गया है: शिवसेना नेता संजय राउत