Maharashtra Flood: महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ प्रभावित जिलों ने गंभीर स्थिति बनी हुई है. तटीय कोंकण क्षेत्र में रत्नागिरी, रायगढ़ जिलों और पश्चिमी महाराष्ट्र में कोल्हापुर और सतारा जिलों में भारी बारिश के कारण राज्य के कई स्थानों पर भूस्खलन हुए हैं. राज्य में पिछले हफ्ते हुई बारिश से जुड़ी घटनाओं में अब तक 213 लोगों की मौत हो चुकी है.Also Read - Maharashtra News: एकनाथ शिंदे से जुड़े नवरात्रि कार्यक्रम में पहुंचीं रश्मि ठाकरे, उद्धव गुट के कई नेता भी रहे मौजूद

इस दौरान शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस बाढ़ प्रभावित कोल्हापुर जिले पहुंचे. हालांकि दोनों नेता अलग-अलग बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं. लेकिन दोनों ही नेता आज इसी बाढ़ प्रभावित जिले का दौरा कर रहे हैं. Also Read - महाराष्ट्र: नवी मुंबई में भारी सुरक्षा के बीच PFI ऑफिस से बोर्ड हटाया गया

बाढ़ प्रभावितों को बीमित राशि का 50 फीसदी वितरित करने का आदेश दें केन्द्रीय वित्त मंत्री: ठाकरे Also Read - महाराष्ट्र में हादसा: पालघर के वसई में फैक्ट्री में हुए विस्फोट में तीन श्रमिकों की मौत, 8 घायल

इससे पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से अनुरोध किया कि वह बीमा कंपनियों को राज्य में बाढ़ प्रभावित लोगों को बीमित राशि की 50 प्रतिशत रकम वितरित करने का आदेश दें. ठाकरे ने उन्हें संबोधित एक पत्र में यह मांग की.

उन्होंने कहा, ‘बीमा कंपनियों के प्रतिनिधियों ने कवरेज की कम से कम 50 प्रतिशत राशि का भुगतान करने पर सहमति व्यक्त की है. हालांकि, उन्होंने इसके लिये बीमा कंपनियों के मुख्यालय के साथ-साथ आईआरडीए को केंद्र सरकार की ओर से निर्देश मिलने पर जोर दिया है.’

ठाकरे ने सीतारमण को याद दिलाया कि पूर्व में केंद्र ऐसे निर्देश जारी करता है. जम्मू-कश्मीर और केरल में बाढ़ के दौरान ऐसा देखने में आया था.

(इनपुट भाषा)