लखनऊ: बुलंदशहर के अनूपशहर क्षेत्र स्थित एक शिव मंदिर में मंगलवार तड़के दो साधुओं की लाठी से प्रहार कर हत्या कर दी गई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को बेहद गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं. वहीं, विपक्ष ने मामले की गहराई से जांच करने और इसका राजनीतिकरण न करने की मांग की है. महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे ने इस मामले पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात की है. Also Read - Yogi Adityanath की पहल पर सामने आए कई व्यापारी और कंपनियां, यूपी सरकार से मांगे 5 लाख श्रमिक और कामगार

शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने ये जानकारी दी. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बातचीत की एवं बुलंदशहर में दो पुरोहितों की हत्या को लेकर चिंता प्रकट की. संजय राउत ने ट्वीट किया, “बुलंदशहर के मंदिर में दो साधु-संतों की हत्या मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने योगी आदित्यनाथ से फोन पर चर्चा की. उन्होंने साधुओं की हत्या को लेकर चिंता व्यक्त की. ऐसी अमानवीय घटना घटती है तब राजनीति न करके हमें एक साथ काम करते हुए अपराधियों को दंडित करवाना चाहिए- उद्धव ठाकरे.” Also Read - प्रवासियों के रोजगार मामले पर योगी आदित्यनाथ का यू-टर्न, अब राज्य सरकार से नहीं लेनी होगी अनुमति

इससे पहले संजय राउत ने भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा, “भयानक! बुलंदशहर, यूपी के एक मंदिर में दो साधुओं की हत्या, लेकिन मैं सभी से अपील करता हूं कि वे इसे सांप्रदायिक न बनाएं, जिस तरह से कुछ लोगों ने पालघर मामले में करने की कोशिश की.”

बता दें कि इससे पहले महाराष्ट्र के पालघर में जूना अखाड़े के दो साधुओं और उनके ड्राइवर की मॉब लिंचिंग के मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बातचीत की. योगी ने दोषियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की थी. अब संजय राउत ने पालघर की घटना को याद दिलाते हुए भाजपा पर कटाक्ष किया है.

इससे पहले बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि अनूप शहर थाना क्षेत्र स्थित फगौना गांव में एक शिव मंदिर में जगदीश (50) और शेर सिंह (52) नामक साधुओं की हत्या कर दी गई.