मुंबई: पालघर लोकसभा सीट पर होने जा रहे उप-चुनाव से पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की एक ऑडियो क्लिप जारी की जिसमें वह बीजेपी कार्यकर्ताओं से उप-चुनाव जीतने के लिए कथित तौर पर हर तरीका अपनाने की अपील करते सुनाई दे रहे हैं. इस पर फडणवीस ने शनिवार को कहा कि ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ की गई है. फडणवीस ने कहा कि यदि क्लिप में उनकी ओर से कही गई बातें अनुचित निकलीं तो वह कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार हैं. मुख्यमंत्री ने भी 14 मिनट की ऑडियो क्लिप जारी की और दावा किया कि यह तोड़ीमरोड़ी गई उस क्लिप का पूरा हिस्सा है जिसे उद्धव ने शुक्रवार रात एक रैली के दौरान जारी किया था.

ऑडियो क्लिप से हुई छेड़छाड़
उद्धव ने पालघर में शुक्रवार रात एक रैली को संबोधित करते हुए ऑडियो क्लिप जारी किया था. पालघर में 28 मई को उप-चुनाव होने वाले हैं. उप-नगरीय इलाके वसई में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए फडणवीस ने कहा ,‘ शिवसेना को अपनी हार नजर आ रही है और इसलिए वह इस स्तर तक आ गई है. सेना ने मेरी ऑडियो क्लिप को तोड़-मरोड़ कर लोगों के सामने पेश किया ताकि उन्हें गुमराह किया जा सके.उन्होंने कहा ,‘ पूरी ऑडियो क्लिप 14 मिनट लंबी है. मैं खुद ही इस ऑडियो क्लिप को चुनाव आयोग को सौंपूंगा. मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि शिवसेना ने क्लिप में कांटछांट की है.

कार्रवाई के लिए तैयार
उन्होंने कहा, क्लिप में मेरा आखिरी वाक्य यह था कि हम सत्ता में हैं, लेकिन कभी इसका दुरुपयोग नहीं करेंगे. उन्होंने इस लाइन को जारी ही नहीं किया. यदि उन्होंने इसे जारी किया होता तो उनका दावा औंधे मुंह गिरता.फडणवीस ने कहा,‘शिव सेना की ओर से जारी की गई पूरी क्लिप सुनें. मैंने जो कुछ कहा, यदि उसमें कुछ गलत है तो मैं कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार हूं. उद्धव ने क्लिप जारी किया था जिसमें फडणवीस को कथित तौर पर यह कहते सुना जा रहा है कि पालघर उप-चुनाव जीतने के लिए भाजपा कार्यकर्ता साम दाम दंड भेद का इस्तेमाल करें.

क्या है ऑडियो क्लिप में
फडणवीस को क्लिप में कहते सुना जा रहा है , ‘ पालघर में यदि कोई हमारे वजूद को चुनौती दे रहा है और हमसे विश्वासघात कर रहा है, हमारा सहयोगी बताते हुए हमारे पीठ में छुरा मारा है, तो उन्हें सबक सिखाया जाना चाहिए. हमें अब चुप नहीं बैठना चाहिए. हमें बड़ा हमला करना चाहिए और उन्हें दिखा देना चाहिए कि भाजपा क्या है. उन्होंने कथित तौर पर कहा , ‘ यदि हम इस चुनाव को जीतना चाहते हैं , तो उसी तरह का जवाब देना होगा ….‘ साम , दाम , दंड , भेद ’ का इस्तेमाल कर जवाब दें. किसी की धौंस बर्दाश्त नहीं करें. उलटा उन पर धौंस जमाएं …. मैं आपके पीछे खड़ा रहूंगा.

शिवसेना की शिकायत करेगी बीजेपी
भाजपा ने कहा कि वह शिवसेना की ओर से ‘‘ तकनीक के दुरुपयोग ’’ की शिकायत चुनाव आयोग से करेगी. कल ऑडियो जारी करने के बाद उद्धव ने मांग की थी चुनाव आयोग फडणवीस के खिलाफ कार्रवाई करे.शिवसेना सांसद संजय राऊत ने कहा कि विरोधी दल के खिलाफ ऐसी भाषा का इस्तेमाल एक मुख्यमंत्री को शोभा नही देता.महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने ऑडियो क्लिप पर फडणवीस का स्पष्टीकरण मांगा. उन्होंने कहा ,‘ मुख्यमंत्री को क्लिप के बारे में स्पष्टीकरण जारी करना चाहिए. हम चुनाव आयोग से इसकी जांच और उचित कार्रवाई करने की मांग करते हैं.

चव्हाण ने किया ट्वीट
चव्हाण ने एक ट्वीट में कहा, ‘ यदि क्लिप सही है तो मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा देना चाहिए , लेकिन यदि यह फर्जी है तो फडणवीस को उद्धव ठाकरे के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने भी चुनाव आयोग से मामले की जांच करने की मांग की. उन्होंने मुख्यमंत्री के खिलाफ आईपीसी की धारा 506 के तहत शिकायत करने की भी मांग कीउन्होंने कहा, ‘ यदि मुख्यमंत्री इस तरह से लोगों को धमका रहे हैं तो यह चुनावी माहौल को खराब करने जैसा है.

इनपुट-भाषा