औरंगाबादः शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी पार्टी ने महाराष्ट्र में भाजपा नीत सरकार को कभी अस्थिर नहीं किया और उसने राज्य के विकास में हमेशा अहम भूमिका निभाई. ठाकरे की पार्टी को छह महीने पहले औरंगाबाद लोकसभा सीट एआईएमआईएम से हारने के कारण झटका लगा था.

ठाकरे ने कहा, ‘‘जब भगवा गठबंधन ने देशभर में लोकसभा चुनाव में बहुमत हासित किया था, तब औरंगाबाद से वह हार गया था. यहां लोग नाराज थे और इसलिए उन्होंने शिवसेना उम्मीदवार के लिए मतदान नहीं किया. हमने एक चुनाव हारा, लेकिन यहीं सब समाप्त नहीं जो जाता. अब इस गलती को सुधारने का समय आ गया है. हमें भरोसा है कि इस बार यहां (विधानसभा चुनावों में) एआईएमआईएम के उम्मीदवार की जमानत जब्त हो जाएगी.’’

Maharashtra Assembly Election 2019: अमित शाह ने शरद पवार से मांगा गेहूं-चावल का हिसाब

उन्होंने यहां एक रैली में कहा, ‘‘शिवसेना ने राज्य के विकास में अहम भूमिका निभाई है. शिवसेना सुप्रीमो बालासाहेब ठाकरे ने मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे का विचार दिया था, हालांकि (पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री) नितिन गडकरी ने इस परियोजना को पूरा किया. उन्होंने कहा, ‘‘आज जब समृद्धि राजमार्ग निर्माणाधीन है, तो शिवसेना के एकनाथ शिंदे इसमें अहम भूमिका निभा रहे हैं. हमने इस सरकार को अस्थिर करने की कभी कोशिश नहीं की.’’

शरद पवार ने देवेंद्र फडणवीस पर साधा निशाना, कहा- मुख्यमंत्री का गृह नगर नागपुर ‘अपराध नगर’ हो गया है

ठाकरे ने कहा कि जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने के बाद अब केंद्र सरकार से हम ‘‘समान नागरिक संहिता और बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ कार्रवाई की उम्मीद कर रहे हैं’’.