अकोला: महाराष्ट्र के अकोला जिले में 62 वर्षीय आदिवासी किसान ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली. पुलिस ने कहा कि किसान का क्षत-विक्षत शव मंगलवार को पेड़ से लटका मिला, जो छह दिन से वहां लटका हुआ था.

मृतक तुलसीराम शिंदे के परिवार के सदस्यों ने हालिया बेमौसम बारिश से सोयाबीन की फसल बर्बाद होने को इसकी वजह बताया है वहीं पुलिस मामले की जांच कर रही है. चन्नी थाने के निरीक्षक गणेश वानरे ने बताया कि वन रक्षकों को शिंदे का शव मंगलवार दोपहर अकोला शहर से 70 किलोमीटर नवेगांव के जंगल में पेड़ से लटका मिला. उन्होंने कहा कि वह 13 नवंबर को जंगल के नजदीक स्थित पिंपलोली गांव से लापता हो गया था.

पुलिस निरीक्षक ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि उसने 13 नवंबर को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. हालांकि, मंगलवार तक यह मामला इसलिए सामने नहीं आया क्योंकि जिस पेड़ से उसका शव लटका हुआ मिला वह जंगल में काफी अंदर स्थित था.