मुंबई| महाराष्ट्र में कर्ज माफी सहित कई मुद्दों को लेकर पिछले दो दिनों से हड़ताल कर रहे किसानों ने शनिवार सुबह हड़ताल खत्म कर दी. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बाद यह फैसला लिया गया. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और किसान क्रांति कोर समिति के नेताओं के बीच लगभग पांच घंटे तक चली बैठक के बाद किसानों ने शनिवार सुबह हड़ताल खत्म कर दी.

फडणवीस ने बैठक के बाद बताया, “हम किसानों की कर्जमाफी के लिए तैयार हैं. हम इस उद्देश्य के लिए एक समिति बनाएंगे जिसमें किसानों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे और इस पर 31 अक्टूबर को फैसला लिया जाएगा.” किसान क्रांति के नेताओं ने कहा कि सरकार ने उनकी 70 फीसदी मांगों को मंजूर कर लिया है और हम तत्काल भाव से अपनी हड़ताल खत्म कर रहे हैं.

मंगलवार रात किसान क्रांति जन आंदोलन कोर कमिटी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बीच सरकारी आवास पर बातचीत हुई थी. बैठक में किसानों ने मुख्यमंत्री से पूर्ण कर्जमाफी की मांग की, जिसपर मुख्यमंत्री ने एक महीने का वक्त मांगा. दो घंटे की बैठक में मुख्यमंत्री ने अपनी उपलब्धियां किसानों को गिनाई.

किसानों का कहना था, ‘सरकार ने किसानों के लिए क्या-क्या किया है और अगले दो साल में सरकार क्या करने वाली है, बताया गया, लेकिन हमें कर्ज माफी की मांग पर कोई ठोस आश्वासन नहीं दे सके. इस वजह से हम लोग बैठक को बीच में छोड़कर बाहर चले आए. ऐसे में हमने तय किया कि हम हड़ताल पर जाएंगे.’