Former Nanded MP Bhaskarrao Khatgaonkar quits BJP, joins Congress,  नांदेड़/औरंगाबाद: महाराष्ट्र के नांदेड़ के पूर्व सांसद भास्करराव पाटिल खतगांवकर (Bhaskarrao Bapurao Khatgaonkar Patil) ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) छोड़ दी और पूर्व विधायक ओमप्रकाश पोकर्णा के साथ कांग्रेस (Congress) में शामिल हो गए. बीजेपी को झटका देते हुए उसकी महाराष्ट्र इकाई के पूर्व उपाध्यक्ष भास्करराव पाटिल-खतगांवकर और पूर्व विधायक ओमप्रकाश ए. पोकर्ण रविवार को कांग्रेस में शामिल हो गए. 30 अक्टूबर को होने वाले महत्वपूर्ण देगलुर विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर इस घटनाक्रम से जिले में कांग्रेस की संभावनाओं को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है.Also Read - Farmer's Agitation Live Updates: किसान नेता चढूनी बोले, जब तक सरकार सभी मांगें नहीं मान लेती तब तक आंदोलन चलता रहेगा

बता दें कि खतगांवकर ने सात साल पहले कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी. पाटिल-खतगांवकर तीन बार  सांसद और विधायक और दो बार के राज्यमंत्री पार्टी के पूर्व दिग्गज और केंद्रीय मंत्री, दिवंगत एसबी चव्हाण के दामाद और अशोक चव्हाण के बहनोई हैं. Also Read - Goa: पूर्व मुख्‍यमंत्री रवि नाइक ने दिया कांग्रेस के व‍िधायक पद से इस्तीफा, BJP में हो सकते हैं शामिल

77 साल के भास्‍करराव खतरगांवकर 12वीं, 13वीं और 15वीं लोकसभा में संसद सदस्य रहे है. वह तीन बार महाराष्ट्र राज्य विधानसभा के सदस्य भी रहे. वह महाराष्‍ट्र में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं. वर्तमान में अशोक चव्‍हाण एमवीए सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं. Also Read - क्‍या शिवसेना कांग्रेस के नेतृत्‍व वाले UPA में होगी शामिल? संजय राउत ने दिया ये जवाब

अशोक चव्हाण ने खतगांवकर और पोकर्णा का पार्टी में स्वागत करते हुए ट्वीट किया कि उनकी मौजूदगी न सिर्फ नांदेड़ में, बल्कि पूरे मराठवाड़ा में कांग्रेस को मजबूत करेगी. पाटिल-खतगांवकर और पोकर्ण ने आज दोपहर यहां कांग्रेस के नांदेड़ नेता और लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण की मौजूदगी में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में यह घोषणा की.

खतगांवकर ने कहा कि वह पूर्व में महाराष्ट्र के मंत्री अशोक चव्हाण के विरोधी थे, लेकिन अब नहीं हैं. उन्होंने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को पसंद करते हैं, लेकिन ”यदि हमारे कार्यकर्ताओं को न्याय चाहिए तो मुझे कांग्रेस में होने की जरूरत है. महाराष्ट्र के नांदेड़ के पूर्व सांसद भास्करराव पाटिल खतगांवकर ने नांदेड़ के प्रभावशाली नेताओं में से माने जाते हैं.

बता दें क‍ि नांदेड़ के पूर्व मेयर और विधायक पोकर्ण 2014 में भाजपा में शामिल हुए थे, लेकिन उन्होंने अपने गुरु पाटिल-खतगांवकर के साथ कांग्रेस में लौटने का फैसला किया है. देगलुर में, कांग्रेस ने दिवंगत विधायक रावसाहेब अंतापुरकर के बेटे जितेश अंतापुर को नामित किया है, जिनका अप्रैल में कोविड-19 के कारण निधन हो गया था और भाजपा ने शिवसेना के पूर्व विधायक सुभाष सबने को मैदान में उतारा है, जो हाल ही में इसमें शामिल हुए थे. अशोक चव्हाण और अन्य नेताओं ने पाटिल-खतगांवकर और पोकर्ण के अलावा, कई अन्य पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं का भी स्वागत किया.