मुंबई: कोरोनावायरस के कारण जान गंवाने वाले मुंबई पुलिस के कर्मियों के परिजनों को मुआवजे के तौर पर 65-65 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. मृत पुलिसकर्मियों का परिवार महाराष्ट्र सरकार से 50 लाख रुपये और एक आश्रित के लिए नौकरी, मुंबई पुलिस फाउंडेशन (एमपीएफ) से 10 लाख रुपये और निजी बैंक बीमा कवर के माध्यम से पांच लाख रुपये पाने हकदार होगा. Also Read - कोरोना: दिल्ली में संक्रमण के मामले 20 हज़ार पार, मरने वालों की संख्या भी 500 से ज्यादा

मुंबई पुलिस प्रवक्ता व डीसीपी प्रणय अशोक ने आईएएनएस से इस बात की पुष्टि की है कि इस आशय का निर्णय पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह द्वारा लिया गया है. कोरोनावायरस के कारण अब तक, मुंबई पुलिस के आठ कर्मियों की मौत हुई है और शहर में 600 से अधिक संक्रमित हैं. Also Read - भारतीय क्रिकेटरों के लिए अभ्यास कैंप आयोजित करने पर काम कर रही है BCCI लेकिन समय सीमा अनिश्चित

व्यवसायिक समुदाय, पेशेवरों, सेलेब्स और बॉलीवुड हस्तियों से दान स्वीकारने के लिए 2018 में धर्मार्थ ट्रस्ट एमपीएफ की स्थापना की गई थी. इस पंजीकृत ट्रस्ट को प्राप्त चंदे का इस्तेमाल पुलिसकर्मियों के कल्याण के लिए किया जाएगा. Also Read - Coronavirus In Pakistan: पाकिस्तान में संक्रमण के 2,964 नए मामले, आंकड़ा 72 हजार के पार

संयुक्त पुलिस आयुक्त नवल बजाज ने कहा कि यह पैसा शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के बैंक खातों में 48 घंटे के भीतर ट्रांसफर किया जा रहा है. कोरोना के कारण मुंबई पुलिस ने अब तक चंद्रकांत जी. पेंडुरकर (57), संदीप एम. सुर्वे (53), शिवाजी एन. सोनवने (57), सुनील डी. कारगुटकर, मुरलीधर एस. वाघमारे (55), भगवान एस. पार्टे (46), मधुकर वाई. माने (57) और अमोल एच. कुलकर्णी (32) को खो दिया है.