नई दिल्ली: कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में सरकार की चुनौतियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. पूरे राज्य में 3 मई तक लॉकडाउन जारी है. लेकिन यहां की एक नई चुनौती है कैदियों को कोरोना से बचाने की. यहां की जेलों में उनकी वास्तविक क्षमता से अधिक कैदी भरे पड़े हैं. ऐसे में सरकार ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए जेलों में भी लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इस बात की जानकारी दी. Also Read - महाराष्ट्र के इस गांव में होती है रावण की पूजा, नहीं जलाते हैं पुतले; आखिर क्यों?

रविवार को उन्होंने कहा, “महाराष्ट्र की जेलों में उनकी वास्तविक क्षमता से अधिक कैदी हैं. इसलिए हमने औरंगाबाद जेल में लॉकडाउन लागू करने का फैसला किया है. भोजन और पुलिस कर्मियों के ठहरने की व्यवस्था जेल के अंदर की जाएगी. किसी को भी बाहर आने या अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी.” Also Read - मुंबई में कोरोना की वजह से सबसे ज्यादा मौत, 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा

महाराष्ट्र में अकेले औरंगाबाद जेल में ही नहीं बल्कि कई अन्य जेलों में भी लॉकडाउन लागू करने का फैसला लिया है. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि महाराष्ट्र में 5 और जेलों के लिए इसी तरह का निर्णय लिया गया है. Also Read - 19 साल के लड़के ने तलवार से काटा केक, वीडियो हुआ वायरल तो क्राइम ब्रांच पहुंची घर...