Maharashtra Lockdown Latest Update: कोरोना संक्रमण के चलते महाराष्ट्र में लॉकडाउन का बढ़ना लगभग तय माना जा रहा है. और  इसे लेकर आज यानि बुधवार को कैबिनेट की बैठक होने वाली है जिसमें राज्य में लॉकडाउन की सख्ती कबतक रहेगी, इसपर अंतिम फैसला लिया जाएगा. बता दें कि एक तरफ कोरोना का कहर तो दूसरी ओर राज्य में ब्लैक फंगस यानि Mucormycosis के करीब 2000 से ज्यादा एक्टिव केस सामने आ गए हैं, जिसने राज्य सरकार की चिंता को बढ़ा दिया है. अब जिन अस्पतालों के साथ मेडिकल कॉलेज अटैच हैं, वहां पर Mucormycosis बीमारी के मरीजों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है. Also Read - बड़ा ऐलान: कृषि कानूनों में संशोधन करेगी महाराष्ट्र सरकार, विधानसभा में पेश होगा मसौदा

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि राज्य में कोरोना के मामले जैसे-जैसे बढ़ रहे हैं, उसी रफ्तार से Mucormycosis के मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है. ऐसे में सरकार ने ज़रूरी कदम उठाना शुरू कर दिए हैं. Also Read - Maharashtra Gyms Reopen: महाराष्ट्र सरकार ने पुणे में शाम 4 बजे तक जिम खोलने की इजाजत दी, मुंबई में भी मिली छूट

ऐसी स्थिति में राज्य में लॉकडाउन लगना तय माना जा रहा रहा है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने जानकारी दी थी कि बुधवार को कैबिनेट की बैठक में लॉकडाउन पर फैसला लिया जा सकता है. बता दें कि महाराष्ट्र में फिलहाल 15 मई तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं. ऐसे में कहा जा रहा है कि राज्य में अगर लॉकडाउन बढ़ाया गया तो मई के आखिर तक यह लागू रह सकता है. Also Read - Himachal Pradesh Lockdown Extends: जयराम कैबिनेट का फैसला, हिमाचल प्रदेश में 14 जून तक बढ़ा लॉकडाउन

बता दें कि कोरोना के कहर पर काबू पाने के लिए देश के अधिकतर हिस्सों में लॉकडाउन जैसी कड़ी पाबंदियां लागू हैं. आज असम सरकार ने भी कोरोना महामारी पर काबू पाने के लिए लगाई गई सख्ती का ऐलान किया है, तो वहीं आज से तेलंगाना में लॉकडाउन की सख्ती शुरू हो गई है. महाराष्ट्र में खासकर मुंबई और पुणे में कोरोना के मामलों में लॉकडाउन के चलते कोरोना के मामलों में गिरावट देखने को मिली है, फिर भी देश में सबसे ज्यादा केस इसी राज्य से सामने आ रहे हैं. खासकर महाराष्ट्र के गांवों में कोरोना का कहर अब बढ़ता जा रहा है.

वहीं, महाराष्ट्र के एक मंत्री ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा है कि, ‘करीब 12 जिलों में कोरोना मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है लेकिन ये पूरे राज्य के मात्र एक तिहाई हैं, दो तिहाई राज्यों में या तो कोरोना मामले स्थिर हैं या फिर बढ़ रहे हैं, ऐसे में अगर लॉकडाउन खुला तो फिर से केस बढ़ने की आशंका है.’