Maharashtra Lockdown News: महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ रहे कोरोना (Coronavirus) के मामलों के बीच यवतमाल (Yavatmal) और अकोला (Akola) में फिर से लॉकडाउन (Lockdown News) लगाने की घोषणा कर दी गई है. वहीं अमरावती में भी जिला प्रशासन फिर से बंदिशें लगाने पर विचार कर रहा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray ) ने मुंबई में एक अहम बैठक में कोरोना के हालात का जायजा लेने के बाद यवतमाल, अकोला और अमरावती में फिर से लॉकडाउन लगाने का अधिकार वहां के जिला कलेक्टर को दे दिया था.Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र में कब खुलेंगे पर्यटन स्थल? मंत्री आदित्य ठाकरे ने दिया बड़ा अपडेट

बता दें कि महाराष्ट्र के अकोला में पिछले तीन दिनों में 500 से ज्यादा कोरोना के केस सामने आ चुके हैं. जबकि पहले यह आंकड़ा महज 30-35 हुआ करता था. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला कलेक्टर ने 20 फरवरी की आधी रात से 22 फरवरी की सुबह 7 बजे तक लॉकडाउन लगा दिया है. Also Read - भारत में COVID-19 के तीन लाख से कम नए मामले, कल के मुकाबले 50 हजार कम केस

Also Read - उद्धव ठाकरे बोले- शिवसेना ने BJP के साथ रहकर 25 साल बर्बाद कर दिए, ये मैं अब भी मानता हूं

क्या होंगी बंदिशें?

शादी समारोह की पूर्व अनुमति लेनी होगी.
समारोह में 50 से ज्यादा मेहमान नहीं होंगे.
होटल , रेस्टारेंट में मास्क और सैनिटाइज़र अनिवार्य.
सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई.
एक जगह पर पांच से ज्यादा लोग जमा ना हों.
जुलूस या रैली निकालने पर पाबंदी.
बिना मास्क घूमने वालों से 200 रुपए जुर्माना.
ऑटोरिक्शा में 2 और 4 पहिया वाहन में चार से ज्यादा लोग नहीं होने चाहिए.

अकोला ने जिलाधिकारी जितेंद्र पापलकर ने बाताय कि शनिवार रात से सोमवार सुबह तक लॉकडाउन लगाया जा रहा है. दो दिनों के लॉकडाउन से बात नहीं बनी तो आगे लंबा लॉकडाउन भी लगाया जा सकता है. इसी तरह विदर्भ के यवतमाल में भी रात 10 बजे के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया है. 28 फरवरी तक जिले में स्कूल, कॉलेज, धार्मिक उत्सव, जुलूस पर पाबंदी लगा दी गई है. समारोह में 50 से ज्यादा लोगों को शामिल होने की इजाजत नहीं होगी.

यवतमाल के जिलाधिकारी एम देवेंदर सिंह ने बताया कि आज हमने जिले में लॉकडाउन का आदेश दिया है. इसके साथ ही तहसीलों में क्या स्थिति है इसकी जानकारी लेकर आगे के कदम के बारे में विचार किया जा रहा है. मालूम हो कि अमरावती में पिछले तीन दिनों मे कोरोना के 1400 से ज्यादा केस सामने आ हैं.

बता दें कि इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चेतावनी भी दी थी कि अगर कोविड-19 के दिशा निर्देशों का ठीक से पालन नहीं किया गया तो एक और लॉकडाउन (Lockdown) के लिए लोगों को तैयार रहना चाहिए.