Maharashtra Lockdown Latest Update: कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में अब धीरे-धीरे मामले कम हो रहे हैं. हालांकि संभावित तीसरी लहर की आशंका को लेकर एहतियात भी बरते जा रहे हैं. महाराष्ट्र में लॉकडाउन में ढील तो दी गई है हालांकि पाबंदियां अब भी लागू हैं. राज्य में अनलॉक के माध्यम से समय-समय पर कई जरूरी गतिविधियों को इजाजत दी गई है. इन सबके बीच महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार ने आज एक और बड़ा फैसला लिया है. महाराष्ट्र में 7 अक्टूबर से धार्मिक स्थानों को खोलने का फैसला लिया गया है.Also Read - बिना नाम लिए उद्धव ठाकरे ने परमबीर सिंह पर साधा निशाना, बोले- शिकायतकर्ता लापता हो गया है

मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई. सरकारी आदेश के अनुसार, महाराष्ट्र में 7 अक्टूबर यानी नवरात्रि के पहले दिन से सभी पूजा स्थल फिर से खुल जाएंगे. हालांकि इस दौरान सभी COVID-19 सुरक्षा नियमों का पालन किया जाएगा. Also Read - Special Vaccine Drive: महाराष्ट्र के कॉलेजों में भी 25 अक्टूबर से 2 नवंबर के बीच चलेगी वैक्सीन की स्पेशल ड्राइव

मुख्यमंत्री ठाकरे के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘सभी पूजा स्थल नवरात्रि के पहले दिन, यानी 7 अक्टूबर 2021 से भक्तों के लिए फिर से खुलेंगे.’ महाराष्ट्र सरकार को मंदिर नहीं खोलने को लेकर BJP के विरोध का सामना करना पड़ रहा है, जो महामारी के कारण बंद रहे. Also Read - Mumbai Local Update: राजेश टोपे का बड़ा बयान- दिवाली के बाद इन लोगों को भी मिल सकती है मुंबई लोकल में सफर की इजाजत

इससे पहले राज्य सरकार ने शुक्रवार को कहा कि कक्षा 5 से 12 के लिए स्कूल भी 4 अक्टूबर से पूरे महाराष्ट्र में फिर से खुलेंगे. शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा, ‘ग्रामीण क्षेत्रों के सभी स्कूल 5वीं से 12वीं कक्षा के लिए शारीरिक कक्षाएं फिर से शुरू करेंगे. मालूम हो कि 8वीं से 12वीं कक्षा के लिए स्कूल शहरी क्षेत्र में हर जगह फिर से शुरू होंगी. अभी के लिए स्कूल केवल उन क्षेत्रों में कक्षाएं ले रहे हैं जहां COVID-19 के मामले कम आ रहे हैं.