Maharashtra Me Kab khulenge School: कोरोना की दूसरी लहर का कहर धीरे-धीरे कम हो रहा है. हालांकि कुछ राज्यों से इसके लगातार सामने आ रहे मामलों ने चिंता बढ़ा रखी है. इन सबके बीच संभावित तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए राज्य सरकारों द्वारा तमाम तरह के एहतियात भी बरते जा रहे हैं. महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार भी तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सावधानी बरत रही हैं.Also Read - बिना नाम लिए उद्धव ठाकरे ने परमबीर सिंह पर साधा निशाना, बोले- शिकायतकर्ता लापता हो गया है

इन सबके बीच स्कूलों को खोलने को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. महाराष्ट्र में चार अक्टूबर से स्कूल खोल दिए जाएंगे. इस बारे में शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंजूरी दे दी है. हालांकि स्कूल खुलने के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरह से पालन किया जाएगा. Also Read - Mumbai Local Update: राजेश टोपे का बड़ा बयान- दिवाली के बाद इन लोगों को भी मिल सकती है मुंबई लोकल में सफर की इजाजत

उधर, मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि मुंबई और आसपास के इलाकों में स्कूलों को फिर से खोलने पर फैसला दिवाली के बाद लिया जाएगा. इससे पहले, एक टास्क फोर्स ने पूरे महाराष्ट्र में स्कूलों को फिर से खोलने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) जारी की थी. विशेषज्ञ पैनल ने शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों दोनों के लिए पूर्ण टीकाकरण की सिफारिश की थी. हाल ही में एक सीरो सर्वे में पाया गया है कि मुंबई की लगभग 87 फीसदी आबादी ने कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित कर ली है. Also Read - Maharashtra Corona Update: राजेश टोपे का बड़ा बयान- खत्म नहीं हुई दूसरी लहर, दिवाली के बाद तीसरी लहर का अंदेशा!

BMC शिक्षा विभाग ने कहा कि उसने छात्रों की सुरक्षित वापसी के लिए एक योजना पर काम करना शुरू कर दिया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ‘हम दिवाली की छुट्टी के बाद स्कूलों को फिर से खोलने की संभावना देख रहे हैं. हालांकि, आयुक्त अंतिम निर्णय लेंगे. यह दिवाली के बाद COVID-19 के नंबरों पर निर्भर करता है.