मुंबई: महाराष्ट्र के मंत्री जयंत पाटिल ने दावा किया कि राज्य से भाजपा के 14-15 विधायक महाराष्ट्र विकास अघाडी के संपर्क में हैं, लेकिन सत्तारूढ़ गठबंधन विपक्षी नेताओं के ‘शिकार’ की गलती नहीं करना चाहते हैं. एनसीपी नेता का यह बयान तब आया है जब मध्‍य प्रदेश में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस के विधायकों को तोड़ने की कोशिशों के सियासी आरोपों के बीच आया है. Also Read - मोदी सरकार 02 का एक साल: बीजेपी देश की जनता के बीच बताएगी ये उपलब्धियां

कांग्रेस ने मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को गिराने के लिए भाजपा पर ‘ऑपरेशन लोटस’ चलाने का आरोप लगाया है जिसके बाद पाटिल ने यह टिप्पणी की है. महाराष्ट्र एनसीपी प्रमुख पाटिल ने भी भाजपा पर सत्ता के लिए उतावला होने का आरोप लगाया. Also Read - Domestic Flights से महाराष्‍ट्र जाने वाले Air Passengers को 14 दिन का home isolation जरूरी, लेकिन...

पाटिल ने बुधवार को यहां राज्य विधानमंडल परिसर के बाहर पत्रकारों से कहा, ”विपक्षी पार्टी के 14-15 विधायक हमारे संपर्क में हैं. यहां तक कि आज भी संपर्क में हैं. हमें उनके काम करने होंगे क्योंकि हमारे उनसे अच्छे सबंध हैं. हम उनकी मानसिकता समझते हैं.” Also Read - सीएम योगी पर राज ठाकरे का पलटवार, बोले- महाराष्ट्र में बिना इजाजत किसी मजदूर को नही मिलेगी एंट्री

महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा, ”फिर भी, यह सही नहीं है कि हम उनका शिकार करें. हमारी इच्छा गलती करने की नहीं हैं. हमारी तवज्जो इस बात पर है कि सरकार चले.”

बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, लेकिन उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद को लेकर भाजपा से संबंध तोड़ लिए थे, जिस वजह से महाराष्ट्र में भाजपा सरकार नहीं बना सकी थी.