Maharashtra News: एक तरफ जहां देश के अन्य राज्यों में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं वहीं महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर में कमी आने केबाद एक बार फिर से स्थिति बिगड़ रही है. देश में केरल साथ-साथ महाराष्‍ट्र (Maharashtra) ने फिर से सरकार की चिंता बढ़ा दी है. इन दो राज्यों में कोरोना के नए मामले फिर से बढ़ रहे हैं. एक्टिव केस की बात करें तो महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है. वहीं, महाराष्‍ट्र सरकार द्वारा गठित की गई कोविड टास्‍क फोर्स (Covid Task Force) ने राज्‍य में जल्‍द ही कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) आने की चेतावनी भी दे दी है.Also Read - RBI ने महाराष्ट्र के इस को-ऑपरेटिव बैंक पर लगाए कई 'प्रतिबंध', ग्राहकों के लिए है यह जरूरी अपडेट

कोविड टास्क फोर्स ने दी चेतावनी-सितंबर-अक्टूबर में आ सकती है तीसरी लहर Also Read - Omicron In Maharashtra: महाराष्ट्र में फिर बढ़ेगी सख्ती? CM उद्धव ठाकरे की बैठक पर टिकीं निगाहें

कोविड टास्‍क फोर्स ने कहा है कि महाराष्‍ट्र में कोरोना की तीसरी लहर अगले महीने सितंबर या अक्‍टूबर में आ सकती है. बता दें कि राज्य सरकार ने यह् टास्‍क फोर्स कोरोना की स्थिति पर नजर रखने के लिए और इस महामारी से निपटने में सलाह देने के लिए गठित की है. Also Read - Mumbai: पत्नी ने पढ़ाई नहीं करने पर बच्चों को पीटा तो पति ने मार दिया चाकू

हाल ही में मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने कोविड टास्‍क फोर्स के साथ अहम बैठक की थी, जिसमें कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका समेत स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं, ऑक्‍सीजन के इंतजाम और महामारी को रोकने को लेकर चर्चा की गई थी. दूसरी लहर में ऑक्‍सीजन की कमी के कारण महाराष्ट्र में स्थिति बदतर हो गई थी और इसके कारण कई लोगों को अपनी जानें गंवानी पड़ी थीं.

महाराष्ट्र में कोरोना से हुईं हैं सबसे ज्यादा मौतें
देश में कोरोना महामारी के दौरान सबसे ज्‍यादा मौतें महाराष्ट्र में ही दर्ज हुईं हैं. राज्य में अबतक  63 लाख से ज्‍यादा कोरोना केस दर्ज किए गए हैं और 1.34 लाख से ज्‍यादा मौतें (Covid Deaths) हुईं हैं. वहीं राज्‍य में अब तक 61 लाख से ज्‍यादा मरीज कोरोना के बाद स्वस्थ भी हुए हैं.  राज्‍य में सबसे ज्‍यादा मामले मुंबई, ठाणे और पालघर में सामने आ रहे हैं.