Maharashtra News: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से मुलाकात की थी, इसके बाद से ही दोनों पूर्व सहयोगियों के नजदीक आने की अटकलें शुरू हो गई हैं. इस सियासी अटलल को हवा दी है महाराष्ट्र के केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास अठावले (Ramdas Athawale) ने. अठावले ने बड़ा बयान दिया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना (BJP & Shiv Sena) मिलकर सरकार बना सकते हैं. इतना ही नहीं  केंद्रीय मंत्री ने इसके लिए एक फॉर्मूला भी सुझाया है.Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र सरकार के दो साल बेमिसाल, सीएम उद्धव ठाकरे ने खुश होकर कही ये बात....

रामदास अठावले ने कही ये बड़ी बात…
रामदास अठावले (Ramdas Athawale) ने कहा कि भाजपा और शिवसेना सहित अन्य दलों के साथ ‘महायुति’ यानि महागठबंधन की सरकार बनाई जा सकती है. इस महायुति में मुख्यमंत्री पद को आधे-आधे कार्यकाल के लिए शिवसेना के साथ बांटा जा सकता है. अठावले ने बताया कि इस मुद्दे पर उन्होंने भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) से चर्चा की है और जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भी बैठक की जाएगी. Also Read - 'Maharashtra में मार्च में सरकार का गठन करेगी BJP', केंद्रीय मंत्री Narayan Rane के इस बयान के क्या हैं मायने?

अठावले के बयान से बढ़ेगी कांग्रेस की टेंशन
मंत्री रामदास अठावले के इस बयान से कांग्रेस की टेंशन बढ़ना तय है. बता दें कि महाराष्ट्र सरकार में कांग्रेस भी शामिल है. ऐसे में यदि भाजपा और शिवसेना फिर से एक छतरी के नीचे आते हैं, तो उसे निश्चित तौर पर बाहर जाना होगा. इन दिनों वैसे ही कांग्रेस बुरी स्थिति से गुजर रही है. चुनावों में लगातार मिल रही हार के साथ ही उसके नेता भी उसका साथ छोड़ रहे हैं. Also Read - Anna Hazare Admitted: सीने में दर्द की शिकायत के बाद अन्ना हजारे पुणे के अस्पताल में भर्ती

CM ठाकरे ने भी की थी PM मोदी की तारीफ
हाल ही में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी. हालांकि उनकी ये मुलाकात मराठा आरक्षण सहित राज्य से जुड़े अन्य मुद्दों को लेकर थी. लेकिन, इस मुलाकात के बाद CM ने PM की तारीफ भी की थी, जिस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए रामदास आठवले ने कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच गठबंधन सरकार बनाने का यही सही वक्त है.