नई दिल्लीः पालघर की घटना के बाद आलोचनाओं का शिकार हुई महाराष्ट्र सरकार के बचाव में अब एनसीपी प्रमुख शरद पवार अब सामने आ गए हैं. विपक्ष लगातार महाराष्ट्र में लचर कानून व्यवस्था को लेकर सरकार को घेरने का प्रयास कर रही है तो वहीं देश भर से साधुओं ने भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की चेतावनी दी है. Also Read - Maharashtra Lockdown Update: महाराष्ट्र में लॉकडाउन का बढ़ना लगभग तय! जानें स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने क्या कहा...

इस पूरी घटना के बाद अब शरद पवार सीएम उद्धव ठाकरे के समर्थन में उन्होंने कहा कि पालघर में जो हुआ वह नहीं होना चाहिए और दोषियों को सजा देने के लिए सरकार पूरी कोशिश कर रही है. Also Read - Maharashtra Local News: महाराष्ट्र सरकार ने 7.2 लाख ऑटो रिक्शा चालकों को दी बड़ी राहत, 108 करोड़ रुपये किए आवंटित

पवार ने कहा कि यह घटना काफी दुखद है और हम इसकी घोर निंदा करते हैं. उन्होंने कहा कि जो हुआ वह नहीं होना चाहिए और यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है. इतना ही नहीं शरद पवार ने अभी तक इस पूरे मामले में पुलिस प्रशासन की तरफ से की गई कार्रवाई पर भी संतुष्टि जताई. उद्धव ठाकरे के समर्थन में पवार ने कहा कि सीएम होने के नाते वे जो कुछ इस मामले में कर सकते थे उन्होंने किया और आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी. Also Read - इन दस राज्यों में कोविड-19 के 71 फीसदी से ज्यादा नए मामले, महाराष्ट्र और कर्नाटक सबसे आगे

सरकार और पुलिस की बड़ाई करते हुए उन्होंने कहा कि घटना की जानकारी मिलते ही सरकार ने इसमें काफी तेज एक्शन लिया और कुछ ही घंटों में हमने 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया. उन्होंने कहा कि सरकार अपना काम कर रही है लेकिन कुछ लोग अफवाह फैलाकर लोगों को भ्रमित करने का काम कर रहे हैं.